संवाद सूत्र, कमालगंज : हत्या के मामले मे वांछित चल रहे युवक की तलाश में दबिश से भयभीत भाई ने रजीपुर चंदनपुर मार्ग पर स्थित रिटायर शिक्षक के बाग में जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी कर ली। जानकारी पर पुलिस व स्वजन मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने जांच की।

क्षेत्र के गांव बहोरनपुरटप्पा हवेली के मजरा जंजाली नगला निवासी हरिराम राजपूत के 36 वर्षीय पुत्र पुरुषोत्तम ने बुधवार को रजीपुर चंदनपुर मार्ग पर रिटायर शिक्षक एमपी सिंह के बाग में कीटनाशक दवा पीकर खुदकुशी कर ली। बुधवार शाम करीब चार बजे बाग में युवक का शव पड़ा देख आसपास खेतों पर काम कर रहे लोगों ने पुलिस को सूचना दी। जिस पर थाना प्रभारी राकेश कुमार, चौकी प्रभारी खुदागंज जगदीश भाटी व दारोगा अमित शर्मा मौके पर पहुंच गए। पुलिस को घटनास्थल के निकट एक देसी शराब का खाली क्वार्टर तथा कीटनाशक दवा की खाली बोतल पड़ी मिली, जिसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया। पत्नी प्रेमवती पति के शव बिलखकर रो रही थी। प्रेमवती ने बताया कि कि उसका देवर रानू हत्या के एक मामले में वांछित चल रहा है। जिसको लेकर पुलिस ने घर पर कई बार दबिश दी। मंगलवार रात पुलिस ने देवर की तलाश में दबिश दी थी। गांव के लोगों ने पुरुषोत्तम से यह कह दिया कि यदि रानू न मिला तो पुलिस उसे उठा ले जाएगी। इसी बात के भय से वह बुधवार को सुबह पांच बजे ही घर से निकल गया था। ग्रामीणों ने बताया कि पुरुषोत्तम हलवाई का काम करता था। उसके तीन बच्चे हैं। जिसमें प्रांशु 12 वर्ष, आकांक्षा 10 वर्ष व दिव्यांशु आठ वर्ष के हैं। वह पांच भाई है, जिसमें एक भाई की मौत हो चुकी है। पिता हरीराम खेती करते हैं। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Edited By: Jagran