सड़क हादसे में तीन लोगों की मौत में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

- दो माह पूर्व रोडवेज बस ने बाइक सवारों को रौंद दिया था - 12 से 19 जुलाई के बीच साक्ष्य उपलब्ध कराने को नोटिस जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : विगत 15 अप्रैल को मदनपुर के पास तेज रफ्तार बेकाबू रोडवेज बस सामने से आ रही बाइक में टक्कर मारने से गिरे बाइक सवार दंपती और दोनों बच्चों को रौंदते हुए गुजर गई। चालक परिचालक मौके पर बस छोड़ कर फरार हो गए। तीनों घायलों की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। डीएम ने मामले में एसडीएम को मजिस्ट्रियल जांच के लिए नामित किया है। बयान, जानकारी या साक्ष्य उपलब्ध कराने को 12 से 19 जुलाई तक का समय दिया गया है। पीड़ित स्वजन व पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सकों को भी बयान दर्ज कराने को लिखा गया है। हादसे में बाइक चालक मैनपुरी जिले के थाना कुर्रा क्षेत्र के गांव मकियानी पोस्ट पतारा निवासी बलराम सिंह चौहान (35) और उनकी पत्नी वंदना (33), चार वर्षीय पुत्री मोहनी और दो वर्षीय पुत्र कार्तिक गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों और सवारियों की चीख पुकार के बीच बस चालक और परिचालक मौके से भागने में सफल हो गए। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोहम्मदाबाद में डा. सनी मिश्रा ने मोहनी को मृत घोषित कर दिया। करीब डेढ़ घंटे बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंची। तब तक इलाज के अभाव में वंदना ने भी दम तोड़ दिया। उसके बाद जब एंबुलेंस पहुंची तो गंभीर रूप से घायल बलराम को लोहिया अस्पताल भेजा जा सका, लेकिन तब तक उनकी हालत और बिगड़ चुकी थी। लोहिया अस्पताल में इलाज शुरू हो पाता, तब तक बलराम ने भी दम तोड़ दिया। उत्तर प्रदेश मोटर कराधान नियमावली के तहत जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह ने घटना की विस्तृत मजिस्ट्रीयल जांच के लिए एसडीएम सदर संजय कुमार सिंह को जांच अधिकारी नामित किया है। एसडीएम ने घटना के संबंध में 12 जुलाई से 19 जुलाई के बीच मौखिक या लिखित जानकारी अथवा साक्ष्य उपलब्ध कराने को सार्वजनिक नोटिस जारी कर दिया है। मामले में पुलिस अधीक्षक मैनपुरी को पीड़ित परिवार को सूचित करने के अलावा मुख्य चिकित्साधिकारी फर्रुखाबाद से मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सकों को भी बयान दर्ज कराने को निर्देशित करने को पत्र लिखा गया है।

Edited By: Jagran