जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : शारदीय नवरात्र की नवमी पर घर-घर कन्या भोज के आयोजन हुए। विधि-विधान से माता रानी का पूजन कर नौ दिन व्रत रखे जातकों ने उपवास खोला। नवरात्र समापन पर मा जगदंबा हाथी पर सवार होकर विदा हुईं। शहर के प्रमुख देवी मंदिरों में श्रद्धालुओं का जमावड़ा सुबह से लेकर देर रात तक लगा रहा। जय माता दी के उद्घोष गूंजते रहे। जगह-जगह भंडारे के आयोजन हुए।

शारदीय नवरात्र की नवमी पर श्रद्धालुओं ने मां सिद्धिदात्री का पूजन-अर्चन विधि-विधान से किया। तड़के से ही घरों में लोग जाग गए और पूजन की तैयारियों में जुट गए। पूजा करने के बाद भक्तों ने कन्याओं को बुलाकर भोज कराया। किसी ने पूड़ी-सब्जी, खीर तो किसी ने दही जलेबी से कन्याओं को भोज कराया। टिफिन, रूमाल, प्लेट, ग्लास आदि के साथ ही दक्षिणा भेंट कर भक्तों ने पैर छूकर आशीर्वाद लिया। कन्या भोज कराने के बाद नौ दिन व्रत रखे लोगों ने प्रसाद छका और फिर व्रत खोला। नवमी पर शीतला देवी मंदिर बढ़पुर में तड़के से ही भक्तों का पहुंचना शुरू हो गया। भीड़ होने पर लाइन लगाकर भक्तों ने दर्शन किए। श्री संतोषी माता मंदिर बढ़पुर, रेलवे रोड स्थित मठिया देवी, वैष्णों देवी मंदिर भोलेपुर, गुरुगांव देवी मंदिर खंदिया और श्री गमा देवी माता मंदिर फतेहगढ़ में भी भक्तों की भीड़ रही। नवमी के चलते मंदिर रंग-बिरंगी झालरों से भव्यता से सजाए गए थे, जो रात में दूधिया रोशनी से जगमगा रहे थे। आचार्य योगीराज दवे ने बताया कि शारदीय नवरात्र पर मातारानी पालकी पर सवार होकर आई थीं और हाथी पर सवार होकर विदा हुई हैं। गढ़ी नवाब न्यामत खां में भंडारे में पुलाव व पनीर सब्जी बांटी गई। ठंडी सड़क, बूरावाली गली, बद्री विशाल डिग्री कालेज के पास और नई बस्ती समेत जगह-जगह भंडारे हुए।

महानवमी पर निकली शोभायात्रा में झूमे श्रद्धालु

संवाद सूत्र, शमसाबाद : कस्बा में महानवमी के अवसर पर मां दुर्गा, महा लक्ष्मी व भगवान विष्णु की शोभायात्रा निकाली गई। गंगा रोड स्थित सर्वानंद मंदिर से शुरू शोभायात्रा मुख्य मार्गों से होती हुई गुमटी महादेव मंदिर पहुंची। रास्ते में जगह-जगह लोगों आरती की। शोभायात्रा में डीजे पर बज रहे गीतों पर युवा खूब थिरके। शोभायात्रा को जगह-जगह रोककर पुष्पवर्षा कर आरती की गई। श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरित किया गया। श्री कृष्ण राठौर, रविद्र प्रताप सिंह राजपूत, मनीष राजपूत, रितिक राठौर, संदेश राठौर, अमन राजपूत, अंकित वर्मा, आशीष राजपूत, आयुष राजपूत मौजूद रहे।

Edited By: Jagran