संवाद सूत्र, जहानगंज : तेज बरसात के दौरान गुरुवार सुबह मरम्मत करते समय कच्ची दीवार भरभराकर ढह गई। जिसके मलबे में दबकर मासूम बालक की मौत हो गई। लेखपाल ने मौके पर पहुंचकर जांच की और वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दी।

क्षेत्र के गांव बेहटा निवासी गौतम बाथम सुबह करीब छह बजे मूसलाधार बारिश के दौरान अपने कच्चे मकान की दीवार की मरम्मत कर रहे थे, उसी दौरान दीवार भरभरा कर गिर पड़ी। जिससे पास में खेल रहा उनका छह वर्षीय पुत्र विवेक दीवार के के मलबे में दब गया। जानकारी पर गांव के लोग एकत्र हो गए और मलबा हटाना शुरू कर दिया। ग्रामीणों में जब तक मलबा हटाया तब तक विवेक की मौत हो चुकी थी।

थाना प्रभारी दिनेश कुमार गौतम ने मौके पर घटना की जानकारी ली। दारोगा प्रशांत यादव ने पंचनामा भर शव पोस्टमार्टम को भेजा। पुत्र की मौत से मां सोनी देवी का रो-रोकर बुरा हाल था। ग्रामीणों ने बताया कि विवेक चार भाई-बहनों में सबसे छोटा था। सबसे बड़ी बेटी नंदिनी, पुत्र देव व पुत्री वंदना हैं। लेखपाल आशुतोष शाक्य ने मौके की जांच पड़ताल कर घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी।

नहीं मिली कालोनी

गरीबी के बावजूद गौतम को तत्कालीन ग्राम प्रधान व सचिव ने कालोनी मुहैया नहीं कराई। गरीबी के चलते गौतम व उसके दो भाई झोपड़ी डालकर गुजारा कर रहे हैं, जबकि इसी गांव में पक्के मकान मालिकों को प्रधान व सचिव की मेहरबानी से प्रधानमंत्री आवास मुहैया करा दिए गए। यदि गौतम बाथम को आवास मिला होता तो उन्हें अपना बेटा नहीं खोना पड़ता।

Edited By: Jagran