संवाद सहयोगी, कायमगंज : कंपिल रोड लालकुआं स्थित गोदाम में खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने पुलिस दल के साथ छापा मारकर नकली गुड़ बनाने का कारखाना पकड़ा। जहां गन्ने के रस नहीं राब व खराब गंदी चीनी का रूप परिवर्तित कर गुड़ बनाया जाता है। वहां नकली गुड़ का बड़ा स्टाक मिला। टीम ने नकली गुड़ व उसके निर्माण में प्रयुक्त होने वाली सामग्री सहित तीन सैंपल भरकर जांच को भेजे हैं।

कंपिल रोड लालकुआं स्थित उक्त गोदाम में नकली गुड़ उत्पादन की शिकायत उपजिलाधिकारी अमित आसेरी से की गई। उनके निर्देश पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुभाष तिवारी, बृजेंद्र कुमार, संतोष वर्मा व विमल कुमार तथा उपनिरीक्षक प्रशांत कुमार, उपदेश कुमार व फोर्स की संयुक्त टीम ने छापा मारा। गोदाम में बड़ी मात्रा में नकली गुड़ का स्टाक मिला। साथ ही गुड़ बनाने के उपकरण व कच्चे माल के तौर पर राब व खराब गंदी चीनी मिली। वहां मौजूद बृजमोहन उर्फ लालू गुप्ता व काम में लगे श्रमिकों ने बताया कि यह गोदाम गांजा भांग गली निवासी संजय भारद्वाज की है, गुड़ का काम उन्हीं का है। टीम ने जांच में पाया कि वहां करीब दो टन गुड़, 65 टिनों में भरी एक टन राब व 76 बोरों में भरी 38 क्विंटल चीनी रखी थी। टीम ने तीनों आइटमों के सैंपल भरे। खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुभाष तिवारी ने बताया कि आमतौर पर गुड़ का उत्पादन गन्ना के सीजन में गन्ने के रस से होता है। इस गोदाम में गन्ना का रस बनाने का कोई इंतजाम नहीं दिखा। साथ ही अस्वच्छ व बेहद गंदे स्थलों पर गुड़ का निर्माण होना पाया गया। प्रयुक्त सामग्री के नमूने लिए गए हैं, जिसकी जांच में पता लगेगा कि उसमें कितने हानिकारक तत्व हैं। उस आधार पर कार्रवाई होगी। उपजिलाधिकारी अमित आसेरी ने बताया खाद्य पदार्थ में अस्वच्छता, मिलावट व हानिकारक रसायनों के उपयोग पर कड़ी कार्रवाई होगी। ऐसी और भी जांच कार्रवाई जारी रहेगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप