जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : लोहिया अस्पताल में एक पखवारे पूर्व बिजली केबल फुंक गया था। अभी तक व्यवस्था पटरी पर नहीं आ सकी है। केबल तो डाल दिया गया, लेकिन कर्मियों के ढिलमुल रवैये से पैनल नहीं लगाए जा सके हैं। बिजली न आने से खून व एक्सरे आदि जांचें नहीं हो सकी हैं। मजबूरन मरीजों को बाहर से जांच कराने में जेब ढीली करनी पड़ रही है।

विगत आठ दिसंबर की रात लोहिया अस्पताल परिसर में अंडरग्राउंड बिजली केबल में फाल्ट हो गया था। जिस पर अस्पताल की ओपीडी में अंधेरा पसर गया था। हालांकि तीन दिन बाद अस्थाई रूप से बिजली की व्यवस्था कर दी गई थी। आगरा से मंगवाकर बिजली केबल अंडरग्राउंड डलवा दिया गया, लेकिन अभी तक पैनल की फिटिग नहीं हो सकी है। कर्मियों के ढिलमुल रवैये से मरीजों को परेशान होना पड़ा रहा है। बिजली सप्लाई शुरू होने पर अभी अभी दो दिन का समय लगने की बात कही गई है। शुक्रवार को फिटिग का काम चलने से अस्थाई बिजली व्यवस्था बंद कर दी गई। जिससे ओपीडी में अंधेरा रहा। मोबाइल की रोशनी में मरीजों को देखा गया। बिजली न आने से न तो खून की जांच हो सकी और न ही एक्स-रे। ऐसे में कुछ मरीजों ने बाहर से जांच कराई। सीएमएस डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि काम चल रहा है। पैनल की फिटिग चल रही है। जिससे अभी समय लगेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस