जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : दशहरा पर गुरुवार को अलग-अलग जगहों पर छात्र व बालक की गंगा व बूढ़ी गंगा में नहाते समय डूबने से मौत हो गई। घटना से परिजनों में कोहराम मच गया।

थाना राजेपुर के गांव बिर¨सगपुर निवासी सरोज कठेरिया का 13 वर्षीय पुत्र आकाश अपने चाचा श्यामू, भाई विकास व अन्य परिजनों के साथ ट्रैक्टर ट्राली से गंगा नहाने पांचालघाट आया था। नहाते समय अचानक आकाश डूब गया। कुछ देर बाद चाचा को ध्यान आया तो उन्होंने खोजबीन की। शक होने पर उन्होंने घाट पर मौजूद पुलिस कर्मियों को सूचना दी। शहर कोतवाली के एसएसआई दिनेश चंद्र यादव, पांचालघाट चौकी प्रभारी रामसनेही मौके पर पहुंचे। पुलिस ने गोताखोरों को बुलवाकर गंगा में उतारा। करीब आधा घंटे बाद गोताखोरों ने आकाश का शव निकाल लिया। शव निकलते ही कोहराम मच गया। आकाश कक्षा आठ में पढ़ता था। आकाश दो भाइयों व एक बहन के बीच सबसे बड़ा था। पुलिस ने शव लोहिया अस्पताल भिजवाया। वहां से परिजन शव लेकर चले गए।

थाना कंपिल क्षेत्र के गांव अकबरपुर निवासी गुड्डू यादव का आठ वर्षीय पुत्र हरिओम सुबह दोस्तों के साथ नहाने के लिए बूढ़ी गंगा में गया था। अचानक हरिओम गहरे पानी में डूब गया। साथियों ने उसे जैसे-तैसे निकाला, तब तक वह बेहोश हो चुका था। साथी उसे गांव लेकर आए। जानकारी मिलने पर परिजन हरिओम को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। वहां से उसे लोहिया अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। परिजन उसे कानपुर ले जा रहे थे। रास्ते में उसकी मौत हो गई। जिससे घर में मातम छा गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप