जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में जिलाधिकारी मोनिका रानी ने सोमवार को समीक्षा की। इस दौरान सीएचसी लिजीगंज और मोहम्मदाबाद में विगत वर्ष के सापेक्ष प्रसव कम होने पर फटकार लगाते हुए सीएमओ डा. चंद्रशेखर को जांच करने के आदेश दिए।

सीएमओ ने बताया जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत 10,753 प्रसव हुए हैं। लिजीगंज, मोहम्मदाबाद सीएचसी में विगत वर्ष के सापेक्ष प्रसव कम हुए। इस पर डीएम ने नाराजगी जताई। मरीजों को रेफर किए जाने पर हैरानी जताते हुए डीएम ने संबंधित स्टाफ नर्स की जिम्मेदारी तय करने के निर्देश देकर गैर जिम्मेदार स्टाफ नर्स के खिलाफ कार्रवाई किए जाने को कहा। लोहिया महिला अस्पताल में जननी सुरक्षा योजना के तहत लाभार्थियों का भुगतान 64 फीसद कम होने पर जांच के आदेश दिए। जिलाधिकारी ने लोहिया महिला व शमसाबाद अस्पताल में मरीजों को दिए जाने वाले भोजन भुगतान के जांच के आदेश दिए। अनियमिताएं मिलने पर गबन में कार्रवाई किए जाने के आदेश दिए। उन्होंने मरीजों को हाथ में खाना न दिए जाने के निर्देश दिए। शमसाबाद अस्पताल में गोल्डन कार्ड कम जारी किए जाने पर डीएम ने नाराजगी जताई। चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि वह काम करने में असमर्थ हैं। उन्हें पांच वर्ष भी हो चुके हैं। जिस कारण उन्हें वहां से हटा दिए जाए। डीएम ने शमसाबाद अस्पताल में कराए गए वित्तीय कार्यों की जांच कराने के आदेश दिए। बरौन की आशा बहुओं का भुगतान किए जाने को कहा। राष्ट्रीय अंधता निवारण के अंतर्गत चश्मा वितरण करने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान स्वीप आइकन की ज्योति कठेरिया को 25 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि दी गई। 100 मीटर हाइडल रेस रांची में नेशनल लेवल पर चयनित होने पर उन्हें बधाई दी गई। इस दौरान जिला विकास अधिकारी, एसीएमओ, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप