(((जागरण प्रभाव))) जागरण संवाददाता फर्रुखाबाद : मीडिया प्रमाणन एवं निगरानी समिति की प्रभारी नगर मजिस्ट्रेट दीपा जी भार्गव ने 'दैनिक जागरण' के सोमवार के अंक में प्रकाशित समाचार का संज्ञान लेकर एलडीएम के माध्यम से सभी बैंकों से संदिग्ध लेनदेन का ब्योरा तत्काल उनके संज्ञान में लाने के निर्देश दिए हैं।

आचार संहिता उल्लंघन के लिए डिजिटल भुगतान माध्यमों का उपयोग के संबंध में रविवार के अंक में 'दैनिक नजागरण' ने दावत और शराब को आनलाइन भुगतान, प्रशासन बेखबर शीर्षक से विस्तृत समाचार प्रकाशित किया था। मीडिया प्रमाणन व निगरानी समिति की प्रभारी नगर मजिस्ट्रेट ने खबर का संज्ञान लेकर अग्रणी बैंक प्रबंधक को पत्र जारी कर दिया है। इसमें कहा गया है कि सभी बैंकों को निर्देशित करें कि वह सभी आनलाइन भुगतानों पर नजर रखें और संदिग्ध लेने-देन के बारे में तत्काल सूचित करें। पत्र की प्रति व्यय अनुवीक्षण प्रभारी वरिष्ठ कोषाधिकारी को भी दी गई है। सभी निर्वाचन अधिकारियों से लेखपालों के माध्यम से भी आचार संहिता उल्लंघन पर नजर रखने को कहा गया है।

इसके अलावा नगर मजिस्ट्रेट ने विद्युत वितरण निगम के भोलेपुर स्थित खंड कार्यालय व बढ़पुर ब्लाक के निकट लगे सरकारी योजनाओं के होर्डिंग व बोर्ड लगे होने पर भी सदर विधानसभा क्षेत्र निर्वाचन अधिकारी एसडीएम सदर को पत्र जारी किया है। पूर्व में जारी नोटिस का नहीं मिला जवाब

नगर मजिस्ट्रेट दीपाली भार्गव ने बताया कि विगत सप्ताह सदर विधानसभा क्षेत्र के निर्वाचन अधिकारी एसडीएम सदर को भाजपा नेता द्वारा एक माल के उद्घाटन और एक सपा नेता द्वारा कंबल व गर्म कपड़े वितरण के संबंध में भ्रामक और अस्पष्ट आख्या दिए जाने पर नोटिस दिया था। एसडीएम सदर ने अभी तक नोटिस का जवाब नहीं दिया है। नगर मजिस्ट्रेट ने बताया कि संबंधित को अनुस्मारक जारी कर दिया गया है। स्पष्टीकरण प्राप्त न होने पर जिला निर्वाचन अधिकारी को कार्रवाई की संस्तुति के साथ पत्र भेज दिया जाएगा।

Edited By: Jagran