संवाद सूत्र, कमालगंज : मुख्य विकास अधिकारी ने सियापुर गांव में जल संरक्षण एवं वर्षा जल संचय हेतु जल शक्ति अभियान के तहत चल रही तालाब खोदाई का निरीक्षण किया। यहां 54 की जगह 38 श्रमिक ही कार्य करते मिले। जिस पर उन्होंने एपीओ को मस्टर रोल दुरुस्त कराने के निर्देश दिए। तालाब के आसपास पौधारोपण कराए जाने को भी कहा।

मुख्य विकास अधिकारी एम अरून्न मोली ने गुरुवार को क्षेत्र पंचायत के गांव सियापुर में जल शक्ति अभियान के अंतर्गत चल रही तालाब खोदाई के कार्य का निरीक्षण किया। यहां गाटा संख्या 147 पर 38 मनरेगा मजदूर काम करते मिले, जबकि तालाब खोदाई कार्य हेतु मस्टर रोल पर 54 श्रमिक दर्ज थे। मुख्य विकास अधिकारी को बताया गया कि 16 श्रमिकों द्वारा कार्य की मांग की गई है, मजदूर सिर्फ 38 ही लगे हैं। इस पर उन्होंने कहा जो उपस्थिति वास्तविक है उसे ही दर्ज किया जाए। मौके पर मौजूद अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी ने सीडीओ को बताया कि 1,50,751 रुपये तालाब खोदाई का अनुमानित बजट है। जिसमें अब तक 72,560 रुपये खर्च किया जा चुका है। सीडीओ ने तालाब के आसपास पौधारोपण भी कराने के निर्देश दिए। वहीं पास में ही स्थित बड़ा तालाब पर जाकर निरीक्षण किया तो यहां 2,99,460 रुपये की जगह दो लाख 8 हजार में ही तालाब तैयार होने पर कर्मचारियों की पीठ थपथपाई। कर्मचारियों ने शिकायत करते हुए कहा कि तालाब की कुछ जमीन पर ग्रामीणों द्वारा खेती की जा रही है, यदि पैमाइश करा दी जाए तो वहां पर भी तालाब की खोदाई की जा सकती है। एडीओ निरंजन त्रिवेदी, एपीओ अशाम सिंह आदि मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप