अयोध्या, जेएनएन। भूमि पूजन के दिन लंका विजय में प्रभु राम की सहयोगी रही वानर सेना की भी खातिरदारी की जाएगी। प्रशासन की ओर से उन्हें फल और चने की दावत दी जाएगी। इस आशय के निर्देश मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को दिए हैं। यह व्यवस्था इसलिए की जा रही है ताकि आयोजन स्थल और पीएम की सुरक्षा में बंदरों की दखल से व्यवधान पैदा न होने पाए। खास बात ये है कि वानरों को दावत उनके क्षेत्र में जाकर दी जाएगी, जिसके लिए अलग से कर्मी भी तैनात होंगे। रामनगरी में वानर सेना की मौजूदगी हर स्थान पर देखी जाती है। भोजन की तलाश में बंदर रामनगरी के चप्पे-चप्पे पर नजर आते हैं। श्रद्धालु भी इनकी खूब सेवा करते हैं। यही वजह है कि रामनगरी में वानर अधिक संख्या में देखे जाते हैं। भूमि पूजन के दिन इंसानों को तो रोकने की योजना प्रशासन ने बना ली, लेकिन वानरों को रोकने के लिए उनका प्रिय खाद्य पदार्थ मुहैया कराने की रणनीति बनानी पड़ी।

पीएम के कार्यक्रम की तैयारी देखने पहुंचे सीएम ने कोविड-19 से बचाव के लिए प्रोटोकॉल व शारीरिक दूरी के अनुपालन पर जोर दिया। रामजन्मभूमि परिसर में बने पंडाल में ही सीएम ने तैयारियों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम के कार्यक्रम से संबंधित मुख्य स्थलों जैसे हेलीपैड, हनुमानगढ़ी, जन्मभूमि परिसर में अलग-अलग स्थानों पर वरिष्ठ अधिकारियों की तैनाती की जाए। ड्यूटी के दौरान मोबाइल से फोटो और सेल्फी न लें। प्रधानमंत्री के आगमन में कोई चूक न हो। बंदरों को उनके क्षेत्रों में चना-फल खिलाकर रोका जाए। सरयू नदी के बढ़े जलस्तर के चलते पेट्रोलिंग बढ़ाई जाए। अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश अवस्थी ने तैयारी के विभिन्न पहलुओें पर चर्चा की। एडीजी जोन एसएन साबत ने कहा कि मंगलवार की शाम छह बजे सेे अयोध्या की ओर बड़े वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। आवश्यक सेवाओं के वाहन प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल ने बताया कि मंडल के अन्य जिलों से रात्रि 12 बजे से छोटे वाहनों काे अयोध्या की ओर प्रतिबंधित किया गया है।

पांच जोन में बंटा कार्यक्रम स्थल

डीआइजी दीपक कुमार ने बताया कि पूरे क्षेत्र को पांच जोन में बांटा गया है, जिसमें हेलीपैड, हनुमानगढ़ी रोड, रामलला रोड, कार्यक्रम स्थल, एवं भूमि पूजन स्थल शामिल हैं। जोन में मजिस्ट्रेट एवं एसपी स्तर के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। 12 कंपनी पीएसी, तीन कंपनी सीआरपीएफ और एक कंपनी महिला फोर्स की तैनाती है।

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप