अयोध्या : फैजाबाद-बाराबंकी रेल सेक्शन पर सात नए ओवरब्रिज बनेंगे। रेलवे क्रासिग पर ये ओवरब्रिज दरियाबाद से लेकर दर्शननगर रेलवे क्रासिग तक हैं। रेलवे क्रासिग मोदहा इनमें शामिल है। इसमें चार रेलवे क्रासिग ए श्रेणी, एक बी श्रेणी व तीन सी श्रेणी की है। इन सातों रेलवे क्रासिगों पर ओवरब्रिज निर्माण कराने का निर्णय एक वर्ष पहले कराए गए विभागीय सर्वे के बाद रेल महकमे ने लिया है।

सर्वे में इन पर कटेगरी के चिह्नित मानक से अधिक ट्रैफिक की आवाजाही मिली है। सेतु निगम को प्रारंभिक आगणन पीडब्लूडी एवं रेलवे के संयुक्त सर्वे के बाद देना है। सर्वे में सेतु निगम के इंजीनियर भी शामिल रहेंगे। सेतु निगम के उप परियोजना प्रबंधक अमित कुमार वर्मा के अनुसार अगले सप्ताह सर्वे कराकर प्रारंभिक आगणन सेतु निगम मुख्यालय भेजा जाएगा। रेल क्रासिग पर प्रस्तावित ये ओवरब्रिज फैजाबाद-बाराबंकी रेल सेक्शन के संपार संख्या 122ए, 107ए, 124सी,125सी,131बी, 130बी व 156ए हैं। ए श्रेणी की चार रेलवे क्रासिग में 121ए-मोदहा, 107ए-दर्शननगर व 122ए गद्दोपुर(जिगिलबेल) व 156ए दरियाबाद रेलवे स्टेशन के पश्चिम वाली क्रासिग है। यह दरियाबाद-भिटरिया रोड पर है। 130 बी श्रेणी की रेलवे क्रासिग सोहावल रेलवे स्टेशन के पूरब में सुचित्तागंज बाजार को जाने वाले मार्ग पर है। सी कटेगरी की जिन तीन क्रासिग पर ओवरब्रिज प्रस्तावित है, उनमें 124सी बनबीरपुर, 125सी रायपुर एवं 131सी रौनाही-ड्योढ़ी मार्ग पर परसरामपुर गांव के पास है। इनके निर्माण से अक्सर क्रासिग पर लगने वाले जाम से निजात मिल सकेगा। सर्वाधिक जाम मोदहा रेलवे क्रासिग पर लगता है। ट्रेनों के आने-जाने के अलावा इंजन के आने-जाने से अक्सर क्रासिग बंद करना पड़ता है। सुबह नौ से 10 बजे के बीच एवं सायं चार से पांच बजे के बीच क्रासिग बंद होने से खुलने के बाद जाम समाप्त होने में लगभग आधा घंटा लगता है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप