अयोध्या (जेएऩएन)। अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए रामगढ़ी के महंत ज्ञानदास और बाबरी मस्जिद के मुद्दई हाशिम अंसारी और पैरोकार हाजी महबूब ने महत्वपूर्ण पहल की है। उनका कहना है कि राम मंदिर का निर्माण आपसी सौहार्द्र से होना चाहिए।
ईद के मौके पर महंत ज्ञानदास, हाशिम अंसारी के घर पहुंचे और उसने गले मिलकर उन्हें मुबारकबाद दी। इस मौके पर ज्ञानदास ने हाशिम अंसारी और हाजी महबूब के साथ घंटों राम मंदिर मुद्दे को लेकर अहम बातचीत की।

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश के अन्य समाचार पढऩे के लिये यहां क्लिक करें
मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान ज्ञानदास ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण आपसी सौहार्द्र के साथ होना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे वैसा राम मंदिर नहीं चाहते जो हिन्दू या मुसलमानों के खून से बना हो।
ज्ञानदास ने कहा कि सच्चे मायने में राम मंदिर का निर्माण सर्व धर्म समन्वय से होना चाहिए। तभी अयोध्या का भी विकास होगा।

दूसरी तरफ हाशिम अंसारी ने ज्ञानदास की पहल का स्वागत करते हुए कहा कि, “जो भी ज्ञानदास कहेंगे, वही करेंगे।” इस मौके पर हाजी महबूब ने भी ज्ञानदास की हां-में-हां मिलते हुए कहा कि, “हम राम मंदिर के खिलाफ नहीं है। हम चाहते हैं कि आपसी सौहार्द्र से राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए।”

Posted By: Ashish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस