अयोध्या: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सदस्यता अभियान की शुरुआत समारोह पूर्वक की। पहले दिन अवध विश्वविद्यालय के केंद्रीय पुस्तकालय में व साकेत महाविद्यालय सहित कई शैक्षिक परिसरों में कैंप लगा कर सदस्यता अभियान प्रारंभ किया गया। अवध विश्वविद्यालय के सदस्यता अभियान की शुरुआत पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्र संगठन मंत्री घनश्याम शाही ने विद्यार्थियों को सदस्य बना कर की। कहा, संगठन की सदस्यता से विस्तार के लिए कार्यकर्ता परिसर दर परिसर जायेंगे। कहा, एबीवीपी से विद्यार्थियों का जुड़ना देश के लिए आवश्यक है। कहा कि विद्यार्थियों को राष्ट्रहित व विरोध में कार्य कर रहे लोगों की पहचान होनी चाहिए। कहा परिषद विद्यार्थियों में ज्ञान, शील व एकता का रोपण कर उनके व्यक्तित्व को विकसित करती है। साथ ही उनमें समाज के प्रति सकारात्मक ²ष्टि भी पैदा करती है। प्रांत संगठन मंत्री अंशुल श्रीवास्तव ने विद्यार्थियों को एबीवीपी के बारे में विस्तार से जानकारी दी। पहले दिन विवि में दो सौ से अधिक विद्यार्थियों को सदस्य बनाया गया। साकेत महाविद्यालय सहित अन्य परिसरों में तीन सौ विद्यार्थी सदस्य बने। प्रांत मंत्री अंकित शुक्ला ने बताया कि जिले में कुल 40 हजार विद्यार्थियों को सदस्य बनाया जायेगा। महानगर व जिले में 20-20 हजार सदस्यता का लक्ष्य है। इस मौके पर नये विभाग संगठन मंत्री अमन, महानगर संगठन मंत्री अभिषेक, विभाग संयोजक आशुतोष पांडेय, महानगर मंत्री यश अग्रवाल मौजूद रहे।

बीजेपी के महानगर मंत्री प्रमोद की कोशिश रंग लाई, रिजल्ट घोषित

भाजपा के महानगर मंत्री प्रमोद साहू की कोशिश रंग लाई। उन्होंने कुलपति प्रो. रविशंकर सिंह से एक दिन पहले विद्यार्थियों का अग्रिम कक्षाओं में प्रवेश न हो पाने का हवाला देते हुए सभी कक्षाओं का परीक्षाफल अतिशीघ्र घोषित करने की मांग की थी। कुलपति ने जल्द परीक्षाफल घोषित करने का भरोसा दिया था। शुल्क न जमा होने के कारण संबद्ध महाविद्यालयों का परीक्षाफल रोका था। बुधवार को बीए, बीएससी, बीएससी गृह विज्ञान तथा बीपीईएस के अंतिम वर्ष मुख्य परीक्षा-2021 का परीक्षाफल घोषित हुआ। बीए (भाग-तीन) में 41 हजार 928 परीक्षार्थियों में से 40 हजार 518 उत्तीर्ण घोषित हुए। रिजल्ट 96.64 फीसद रहा।

बीएससी (भाग-तीन) में नौ हजार 707 परीक्षार्थियों में से नौ हजार 297 उत्तीर्ण हुए। रिजल्ट 95.78 फीसद रहा। बीएससी गृह विज्ञान (भाग तीन) में शामिल सौ परीक्षार्थियों में से 97 उत्तीर्ण हुए। 97 फीसद विद्यार्थी पास हुए। बीपीईएस (भाग-तीन) में शामिल 538 परीक्षार्थियों में से 465 उत्तीर्ण हुए। रिजल्ट 86.43 फीसद रहा। परीक्षा नियंत्रक उमानाथ ने बताया कि परीक्षाफल व अंक का विवरण विवि की वेबसाइट पर अपलोड है।

Edited By: Jagran