अयोध्या, जेएनएन। गुमनामी बाबा पर बन रही फिल्म की शूटिंग रामभवन में शुरू कर दी गई है। शूटिंग के लिए रामभवन के एक हिस्से को गुमनामी बाबा के निवास वाले कमरे की शक्ल दी गई है। इसके साथ ही उसी प्रकार की परिस्थितियों को बनाया गया है, जिसमें गुमनामी बाबा रहा करते थे। शुक्रवार को गुप्तारघाट पर गुमनामी बाबा के अंतिम संस्कार की सीन को शूट किया गया था। 

गुमनामी बाबा ने आखिरी सांस रामभवन में ही ली थी। सबसे बड़ा रहस्य यह है कि वे किसी के सामने नहीं आते थे और पर्दे के पीछे से ही लोगों से बात किया करते थे। कई लोगों का मानना है कि गुमनामी बाबा ही नेताजी सुभाषचंद बोस थे और वे यहां रामभवन में साधुवेश में रहे। उनके निधन के बाद कई तरह की चर्चाएं रहीं, लेकिन अधिकृत तौर पर उनकी पहचान कभी सामने नहीं आ सकी। 

उनकी पहचान उजागर करने के लिए उच्च न्यायालय के निर्देश पर जस्टिस विष्णु सहाय की अध्यक्षता में आयोग का गठन हुआ, लेकिन रिपोर्ट अब तक सार्वजनिक नहीं हो सकी है। गुमनामी बाबा पर अब तक दर्जन भर से ज्यादा डाक्यूमेंट्री बनाई जा चुकी है, जबकि अब फिल्म बनाई जा रही है। इसके मुख्य किरदार प्रसिद्ध बंगला कलाकार प्रसेनजीत हैं, जो गुमनामी बाबा का किरदार निभा रहे हैं। सुभाषचंद्र बोस विचार केंद्र के अध्यक्ष शक्ति ङ्क्षसह भी उनकी पहचान को सामने लाने के लिए लंबे समय से प्रयासरत हैं। 

 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस