अयोध्या, जेएनएन। Ayodhya Ram Mandir: बुधवार को रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूमिपूजन किया है तो अब यह जानना भी दिलचस्प है कि निर्माण कब तक आरंभ हो जाएगा। रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए नींव खोदाई का काम माह के अंत तक आरंभ होने की उम्मीद है। श्रीरामजन्मभूमि पर करीब पांच एकड़ के क्षेत्रफल में बनने वाले मंदिर का विकास प्राधिकरण से नक्शा भी पास कराया जाएगा।

ट्रस्ट के सूत्रों के मुताबिक नींव की खोदाई से पहले आइआइटी चेन्नई व देश की शीर्षस्थ इंजीनियरिंग संस्थाओं के विशेषज्ञों से सलाह भी ली जा रही है, जिससे किसी भी प्रकार की गड़बड़ी नहीं होने पाए। माना जा रहा है कि विशेषज्ञों की सलाह के आधार पर ही नींव की गहराई भी तय की जाएगी।

तकनीकी विशेषज्ञों से सलाह लेने व विकास प्राधिकरण से नक्शा पास होने के बाद मंदिर निर्माण के लिए नींव की खोदाई आरंभ होगी। मंदिर के लिए करीब एक लाख घनफुट पत्थरों की तराशी का कार्य भी पूरा हो चुका है। इन पत्थरों को क्रेन आदि से न्यास कार्यशाला से रामजन्मभूमि तक ले जाया जाएगा। रामजन्मभूमि न्यास कार्यशाला में ये शिलाएं रखी हैं, जहां इनकी साफ-सफाई भी की जा रही है। मंदिर में तीन तल होंगे, जबकि पांच शिखर बनाए जाएंगे। मंदिर की ऊंचाई करीब 161 फीट की होगी। उम्मीद है कि साढ़े तीन साल में मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस