अयोध्या : अंकल हम बच्चों का तो कहना मान लीजिए..। मोदी जी कहते हैं कि साफ सफाई बहुत जरूरी है..तभी हम सब कोरोना से भी बचे रहेंगे। प्लीज आप लोग गंदगी न फैलाएं..। स्टेशन परिसर को साफ सुथरा रखिए.। समझदारी से भरा यह कथन सात साल की बच्ची दिव्या का है। दिव्या अपनी ही तरह तीन अन्य छोटे बच्चों के साथ फैजाबाद जंक्शन पर इसी शैली में यात्रियों और कर्मचारियों को जागरूकता के लिए सचेत कर रही थी। जागरूकता के स्लोगन युक्त तख्ती लेकर स्टेशन पर घूमते चार मासूम बच्चे हर किसी का भी ध्यान अपनी ओर खींच रहे थे। सीमित ट्रेनों से पहुंचने वाले यात्रियों को जागरूक करने के दौरान बच्चे शारीरिक दूरी का पालन और कोरोना से बचाव के सभी एहतियात भी बरत रहे थे। सबसे छोटी साढ़े तीन साल की बच्ची नव्या अपनी तोतली जुबान से जब लोगों को तख्ती में लिखे संदेश दिखाकर सफाई के लिए कहती तो लोग भी उसकी बात मानने का पक्का वादा करते रहे। दिव्या और नव्या स्टेशन अधीक्षक दिग्विजय कुमार की बेटियां हैं। इन दोनों बच्चियों की तरह ही स्टेशन अधीक्षक बृजमोहन पांडेय की बेटियां आयुषी और आदिति भी जागरूकता की इस मुहिम में शामिल रहीं। चारों बच्चियों ने मिलकर काफी देर तक स्टेशन परिसर व स्टेशन कार्यालयों में जाकर यात्रियों एवं कर्मचारियों को स्वच्छता के लिए जागरूक किया। इस दौरान वाणिज्य निरीक्षक अजय सिंह, स्टेशन अधीक्षक फैजाबाद आरके उपाध्याय और मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक कौशल किशोर भी इस मुहिम में बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए उनके साथ रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस