अयोध्या: लोकसभा चुनाव के लिए नामांकनपत्रों की जांच में 17 उम्मीदवारों का नामांकनपत्र जिला निर्वाचन अधिकारी अनुजकुमार झा ने खारिज कर दिया। नामांकनपत्र खारिज होने के बाद उम्मीदवारों ने कलेक्ट्रेट परिसर में हंगामा काटा। प्रशासनिक अमले को शांति व्यवस्था के लिए पुलिस बुलानी पड़ी। भारतीय सर्वोदय पार्टी के राजपरीक्षित सिंह को पुलिस साथ ले गई। कोतवाली में रखा गया है। सूत्रों के अनुसार राज परीक्षित मोबाइल से हंगामे की वीडियो फिल्म बनाने लगा था। पुलिस बुलाकर उसके हवाले कर दिया गया। कोतवाल विनोदबाबू मिश्र ने बताया कि राजपरीक्षित के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने का मुकदमा लिखा जा रहा है, उसे जेल भेजा जाएगा। हिदू महासभा के मनीष पांडेय समेत कई धरने पर बैठ गए। बहुजनमहा पार्टी की नसरीनबानो को कलक्ट्रेट से बाहर ले जाने के लिए पुलिस को जर्बदस्ती करना पड़ा। हिदू महासभा के मनीष पांडेय ने नामांकनपत्र खारिज करने को सरासर ज्यादती बताया। आरोप लगाया कि निर्वाचन अधिकारी ने उन सबकी सुनी नहीं। बिना सुने नामंकनपत्र में खामी बता खारिज कर दिया। उन्होंने बताया कि निर्वाचन अधिकारी के खिलाफ फैक्स से शिकायत निर्वाचन आयोग को भेजा है। थोड़ी देर बाद धरना समाप्त कर दिया। कहा, नामांकन पत्र खारिज करने को वह हाईकोर्ट में चुनौती देंगे। जिनके नामांकन पत्र में खामी बता निर्वाचन अधिकारी ने खारिज किया उनमें बृजेंद्रदत्त त्रिपाठी (आदर्शवादी कांग्रेस पार्टी), शिवप्रकाश(स्वतंत्र जनता पार्टी), इंदूसेन(समाजवादी पार्टी), शेषनाथ पांडेय(समग्र क्रांति पार्टी),राकेशकुमार पांडेय(जनसृजन पार्टी),राजकुमार(निर्दलीय), रामशिला (पीस पार्टी), मनीषकुमार पांडेय(हिदू महासभा), लायकअली (आल इंडिया फारवर्ड ब्लॉेक पार्टी, राजपरीक्षित सिंह(भारतीय सर्वादय पार्टी), नसरीनबानो (बहुजनमहा पार्टी),सुदामादेवी (आदर्श मानव अधिकार दल), मो.इस्माइल (डॉ. भीमराव अंबेडकरदल), शैलेंद्रकुमार शुक्ल(नैतिक पार्टी), शब्बीर(अवामी पार्टी),डॉ. बी. तिवारी (सत्यशिखर पार्टी) एवं संतोषकुमार सिंह(राष्ट्रवादी पार्टी ऑफ इंडिया) शामिल हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप