फैजाबाद : अयोध्या कोतवाली क्षेत्र में एक छात्र के अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है। कक्षा चार में पढ़ने वाले छात्र को स्कूली वाहन से उतार कर बदमाशों ने अपहरण किया है। देरशाम तक पुलिस इस मामले में छानबीन में जुटी रही। फिलहाल अपहृत छात्र का कोई सुराग नहीं लग सका है। बस्ती जिले के हरैया थाना क्षेत्र के मूल निवासी दिनेश वर्मा का आठ वर्षीय पुत्र दिपांशु अयोध्या कोतवाली क्षेत्र के रानोपाली गांव में अपनी बुआ के यहां रहकर पढ़ाई करता है। दिपांशु आशापुर स्थित एक निजी स्कूल में कक्षा चार का छात्र है। मंगलवार की सुबह वह स्कूल वैन से घर से विद्यालय के लिए निकला था। पुलिस की पूछताछ में सामने आया है कि रास्ते में एक व्यक्ति ने स्कूल वैन को रोकवाई और दीपांशु को ये कहकर उतार लिया कि उसकी मां की तबीयत खराब है। उसको अस्पताल बुलाया है। स्कूल वैन के चालक ने भी बच्चे को अजनबी के हाथ सौंप दिया। इसके बाद से बच्चा लापता है। स्कूल से लौटने में काफी देर होने पर परिजनों ने विद्यालय पहुंचकर छानबीन की, तो पाया कि छात्र स्कूल ही नहीं आया था। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। एसपी सिटी अनिल कुमार ¨सह, सीओ अयोध्या राजू कुमार साव ने पीड़ित परिवार से मिलकर जानकारी हासिल की तथा बच्चे को जल्द बरामद करने का भरोसा दिलाया।

घटना के पीछे पुरानी रंजिश की आशंका अभी जाहिर की जा रही है। ये रंजिश छात्र के पैतृक गांव से जुड़ी होने की आशंका है। पुलिस विवाद को भी केंद्र में रखकर जांच कर रही है। छात्र के अपहरण की सूचना पाकर बस्ती से उसके परिजन भी पहुंच चुके हैं। दिपांशु के साथ हुई इस घटना को लेकर परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। पैतृक गांव के ही रहने वाले एक व्यक्ति की भूमिका संदेह के घेरे में बताई जा रही है। पुलिस घटनास्थल के आसपास सीसीटीवी कैमरे की तलाश कर रही है। वहां मौजूद लोगों से भी पूछताछ में भी पुलिस टीम जुटी है। कोतवाल अयोध्या विनोद बाबू मिश्र का कहना है कि दिपांशु के बाबा की कई साल पहले हत्या हो चुकी है, गांव के जिन लोगों पर आशंका जाहिर की गई है, उनमें से कुछ लोग जेल में है तथा कुछ जमानत पर छूटे हैं। छात्र के चाचा का भी कई साल पहले अपहरण हो चुका है, जिनका अभी तक पता नहीं चला है।

.........

छानबीन की जा रही है। अभी तक छात्र का सुराग नहीं मिला है। पुलिस की कई टीमें लगाई गई हैं।

राजू कुमार साव, सीओ अयोध्या

By Jagran