अयोध्या : चुनावी तैयारियों के बीच गेहूं खरीद की तैयारी अंतिम दौर में है। 47 क्रय केंद्रों का अनुमोदन जिलाधिकारी अनुज कुमार झा कर चुके हैं। एडीएम (वित्त एवं राजस्व) गोरेलाल शुक्ल को जिलाधिकारी जिला खाद्य अधिकारी नामित कर चुके हैं। पहली अप्रैल से गेहूं खरीद शुरू होनी है। इनमें सर्वाधिक केंद्र 31 पीसीएफ के हैं। दूसरे नंबर पर खाद्य विभाग के 12 केंद्र हैं। इसके अलावा कर्मचारी कल्याण निगम, भारतीय खाद्य निगम एवं पंजीकृत सोसायटी के क्रय केंद्र खुलेंगे। गेहूं बिक्री के लिए किसानों को पंजीकरण कराना होगा। पहले से पंजीकृत किसानों को नए सिरे से पंजीकरण के लिए मोबाइल नंबर एवं आधार कार्ड लेकर आना होगा। मोबाइल एवं आधार कार्ड नंबर कंप्यूटर में फीड करते ही जब माउस क्लिक किया जाएगा तो कंप्यूटर स्क्रीन पर किसान को ब्यौरा आ जाएगा।

जिला खाद्य विपणन अधिकारी सीपी पांडेय के अनुसार धनराशि एवं बोरे की किल्लत नहीं है। बोरे की एक रैक जल्द आने वाली है। बताया कि अभी लक्ष्य शासन ने नहीं आवंटित किया है। खरीद शुरू होने से पहले लक्ष्य मिल जाएगा। पांडेय के अनुसार लक्ष्य के सापेक्ष 113 फीसदी धान की खरीद की गई। शत-प्रतिशत किसानों को भुगतान किया जा चुका है। क्रय केंद्रों के गोदाम पर धान नहीं अवशेष है। सीएमआर के लिए राइस मिलर्स को धान दिया जा चुका है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप