अयोध्या: मसौधा ब्लॉक के एडीओ पंचायत विष्णुनारायन दुबे से लगभग 18 लाख रुपये की वसूली होगी। अगले महीने जनवरी में वह सेवानिवृत्त हो जाएंगे। जिला पंचायत राज अधिकारी सत्यप्रकाश सिंह ने शासकीय धनराशि की वसूली का आदेश कर दिया है। वसूली गई धनराशि मनरेगा एवं ग्राम पंचायत निधि प्रथम खाते में जमा होनी है। यह धनराशि अमानीगंज ब्लॉक की ग्राम पंचायत जयराजपुर व अमावासूफी की है। दोनों ग्राम पंचायतों की वित्तीय वर्ष 2013-14 की ऑडिट आपत्तियों की है जिसे करीब पांच वर्ष बाद भी वह निस्तारित नहीं करा सके। सेवानिवृत्त होने से पहले शासकीय धनराशि की जवाबदेही से बचने के लिए एडीओ पंचायत से वसूली का आदेश करना पड़ा। ग्राम पंचायत अधिकारी अनिलकुमार सिंह से भी डीपीआरओ लगभग 17.50 लाख रुपये वसूली का आदेश 19 दिन पहले किया है। शासकीय धनराशि की वसूली से बचने के लिए संबंधित आपत्तियों को अब निस्तारित कराया जा रहा है जिससे वसूली से बचाया जा सके। एडीओ पंचायत के सेवानिवृत्त के बाद के उनका देयक फंसने की चर्चा तेज है। सूत्रों के अनुसार पंचायत सचिव से प्रोन्नति पाए ऐसे कई एडीओ पंचायत की ऑडिट आपत्ति दबी है। वसूली बचाने के लिए पत्रावली एक पटल से दूसरे पटल के लिए तब तक टहलाई जाती है जब तक तेजी दिखाने वाले अधिकारी के स्थानांतरण नहीं हो जाता है। स्थानांतरण के बाद वह फाइल दब जाती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस