संवाद सूत्र, बकेवर : गुरुवार की शाम कस्बा लखना स्थित भोगनीपुर झाल नहर पुल पर कस्बा लखना की गणेश चतुर्थी पर स्थापित गणेश प्रतिमा विसर्जित करने के दौरान एक युवक नहर में कूद गया। लापता हुए युवक का सुराग नहीं मिला। परिजनों ने नहर में डूबने की आशंका जताई है। कस्बा लखना स्थित नहर झाल पुल पर कस्बा की गणेश प्रतिमा गाजे बाजे के साथ महिला पुरुषों की भीड़ के साथ नगर भ्रमण करने के बाद प्रतिमा विसर्जित करने पुल पर पहुंचे और तभी कस्बा के मुहाल ठाकुरान निवासी पीयूष दिवाकर पुत्र गणेश दिवाकर उम्र करीब 20 वर्ष अचानक नहर में कूद गया और तैर कर बाहर भी निकल आया, बाद में दोबारा फिर वह अन्य साथी के साथ कूद गया। साथी तो बाहर निकल आए लेकिन वह बाहर नहीं निकला। उसके जूते पुल पर पड़े मिले। जब देर शाम पुत्र के वापस न आने व शर्ट व मोबाइल पीयूष की मां को घर जाकर लोगों ने दिया। तब मां व ताऊ सहित अन्य परिजन खोजते हुए नहर पर पहुंचे तो उसके जूते पड़े मिले। इस बात की सूचना जब लखना पुलिस को मिली तो लखना चौकी प्रभारी रमाशंकर उपाध्याय मय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे लेकिन कोई सुराग पीयूष दिवाकर का देर रात तक नहीं चल सका। वहीं अभी तक कोई गोताखोर नहीं आ पाया। जब कि सैकड़ों लोगों की भीड नहर झाल पुल पर जमा है। वहीं उसकी मां का रो रो कर बुरा हाल है। पीयूष पैर से दिव्यांग भी था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस