जासं, इटावा : फ्रेंड्स कालोनी थाना पुलिस ने मंगलवार को एक मकान पर छापा मारकर नकली बीड़ी बेचने का भंडाफोड़ किया था। मौके पर गिरफ्त में आए दो आरोपितों ने पूछताछ में कबूल किया है कि वे दिल्ली से खुली बीड़ी मंगाकर ब्रांडेड कंपनियों के रैपर व बारकोड लगाकर दुकानदारों को सस्ती कीमत पर बेचकर लाभ कमाते रहे हैं। मौके पर भारी मात्रा में नकली बीड़ी, रैपर, बारकोड एवं अन्य सामग्री बरामद की गई थी। एसएसपी डा. ब्रजेश कुमार सिंह ने बताया कि मंगलवार को फ्रेंड्स कालोनी थाना प्रभारी निरीक्षक उपेंद्र सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम ने कोकपुरा पुल के नीचे वाहन चेकिग के दौरान एक व्यक्त की तलाशी लेने पर उसके पास थैले में 32 पैकेट बीड़ी बरामद की गई थी। पूछताछ में उसने अपना नाम डालिम निवासी कामत थाना समरसरगंज जनपद मुर्शिदाबाद पश्चिम बंगाल हाल पता डमरू अड्डा विजय नगर थाना फ्रेंड्स कालोनी बताया। बरामद बीड़ी के संबंध में उसने बताया कि वह और उसका साथी मो. शफीकुल शेख निवासी तारवागन थाना समसरगंज मुर्शिदाबाद, पश्चिम बंगाल हाल पता डमरू अड्डा विजय नगर मिलकर विजय नगर में हरीशंकर यादव के मकान में किराये पर रहते हैं। दोनों उसी मकान में नकली बीड़ी की पैकिग करते हैं। गिरफ्तार डालिम की निशानदेही पर पुलिस टीम द्वारा बताए गए स्थान पर पहुंची तो वहां मकान की तीसरी मंजिल पर मो. शफीकुल शेख बीड़ी के बंडल पैक करते हुए पाया गया। आसपास के कमरों में भारी मात्रा में बीड़ी के बंडल, रैपर, बारकोड व कुछ बोरे बीडी के बंडलों से भरे हुए रखे थे। बरामद सामग्री में 10 बोरा खुली बीड़ी, दो-दो बोरा तानजीत व जीत बीड़ी पैकेट बंद कुल क्रमश: 316 पैकेट व 371 पैकेट, तीन बोरा कैश बीड़ी पैकेट बंद (कुल 664 पैकेट), दो बंडल जीत बीड़ी, एक पैकेट रैपर बीड़ी का पुरा बनाने वाले (कुल 360 नग), 24 पैकेट रैपर बीड़ी का बंडल बनाने वाले (कुल 19200 नग), चार पैकेट पालीथिन बीड़ी पैक करने के लिए, 216 रैपर बार कोड (6480 बार कोड), एक बर्तन में लेही शामिल है।

Edited By: Jagran