संवादसूत्र, बकेवर : भांजी की मौत के मातम में पति के साथ शामिल होने के लिए बाइक से जा रही महिला के कानों में पहने कुंडल बाइक सवार दो लुटेरों ने छीन लिए। लूट के दौरान उसका गला दबाने की कोशिश की। घटना सिक्सलेन हाईवे पर बिजौली स्थित ओवरब्रिज के नजदीक घटित हुई। इटावा शहर के गांधीनगर गली नंबर एक निवासी नानक चंद्र अपनी भांजी की मृत्यु उसकी ससुराल में होने की सूचना पर बुधवार की सुबह अपनी पत्नी ममता त्रिपाठी के साथ बाइक से शोक में शरीक होने के लिए लखना आ रहे थे। जैसे ही वह सुबह नौ बजे बिजौली गांव के हाईवे ओवरब्रिज के करीब पहुंचे, तभी पीछे से बाइक सवार दो लुटेरे अपनी बाइक उनकी बाइक के बराबर लाए। एक लुटेरे ने उनकी पत्नी का गला दबाने की कोशिश की तो इससे घबरा कर महिला ने अपने पति नानक चंद्र की कमर पकड़ ली। इस पर नानक चंद्र ने लुटेरों की पकड़ से अपनी पत्नी को बचाने की खातिर बाइक की गति और बढ़ा दी। तब बाइक पर पीछे बैठे लुटेरे ने ममता के कानों में पहने कुंडल झपट्टा मारकर नोंच लिए। नानक चंद्र ने बताया कि यह वारदात बाइक चलते समय ही घटी और जब लुटेरे कुंडल लूटकर भागने लगे तो उन्होंने उनका पीछा किया। इस पर लुटेरे ओवरब्रिज पार करने के बाद ओवरब्रिज के नीचे उतरकर सर्विस रोड से वापस इटावा की ओर भागे, फिर बिजौली गांव में घुस गए। पुलिस की हेल्पलाइन 112 व 1090 पर मदद के लिए मोबाइल फोन से काल लगाई लेकिन काल नहीं लगी। तब वह गंतव्य को रवाना हो गए। थाना प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार सिंह ने बताया कि दंपती के साथ घटी लूट की घटना संज्ञान में नहीं है। पीड़ित दंपती यदि थाने आते तो कानूनी कार्रवाई अमल में लायी जाती।

Edited By: Jagran