Move to Jagran APP

‘अगर I.N.D.I.A. की सरकार बनती तो…; अखिलेश यादव ने इशारों में कर दी योगी सरकार की तारीफ, कह दी बड़ी बात

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि केंद्र में एनडीए की सरकार जरूर बन गई है लेकिन उनके चेहरों पर खुशी दिखाई नहीं दे रही है। जिन लोगों ने शपथ ली वे भी खुश नहीं हैं। जनता में भी खुशी का अहसास नहीं है। अखिलेश यादव ने कहा कि अगर आईएनडीआई गठबंधन की सरकार बनती तो जनता को कुछ नया जरूर देखने को मिलता।

By Jagran News Edited By: Shivam Yadav Wed, 12 Jun 2024 04:33 PM (IST)
‘अगर I.N.D.I.A. की सरकार बनती तो…; अखिलेश यादव ने इशारों में कर योगी सरकार की तारीफ, कह दी बड़ी बात।

जागरण संवाददाता, इटावा। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि केंद्र में एनडीए की सरकार जरूर बन गई है, लेकिन उनके चेहरों पर खुशी दिखाई नहीं दे रही है। जिन लोगों ने शपथ ली, वे भी खुश नहीं हैं। जनता में भी खुशी का अहसास नहीं है। अखिलेश यादव ने कहा कि अगर आईएनडीआई गठबंधन की सरकार बनती तो जनता को कुछ नया जरूर देखने को मिलता। एनडीए सरकार से कुछ नया मिलने वाला नहीं है। 

अखिलेश ने कहा कि योगी सरकार ने सरकारी नौकरियां निकालनी शुरू कर दी हैं, यह अच्छा हुआ कि सरकार जनता के लिए कुछ काम शुरू कर रही है। अच्छा यह भी होता कि केंद्र सरकार अग्निवीर योजना को समाप्त कर देती। बेरोजगारों को सरकारी नौकरियां देती, नौकरियों में आरक्षण की प्रक्रिया का पारदर्शिता के साथ पालन होता।

करहल सीट छोड़ने का एलान 

बता दें कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंगलवार को सैफई में थे। इस दौरान उन्होंने करहल विधानसभा सीट छोड़ने का एलान किया और कहा कि इसके लिए विधानसभा अध्यक्ष को इस्तीफा देंगे। 

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष के सवाल पर कहा, यह पार्टी स्तर पर तय किया जाएगा। उस व्यक्ति को नेता प्रतिपक्ष बनाया जाएगा जिसके जरिये पार्टी को मजबूती मिले और वोट बैंक बढ़े।

अगला लक्ष्य वर्ष 2027

लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन से उत्साहित सपा अध्यक्ष ने कहा कि समाजवादी पार्टी का अगला लक्ष्य वर्ष 2027 में उत्तर प्रदेश में सरकार बनाना है। सपा के कार्यकर्ता जोर शोर से तैयारी में जुट जाएं। उन्होंने यह भी कहा कि जब संसद चलेगी तब वहां पर जनता के मुद्दों को सपा जोरदारी से उठाएगी।

यह भी पढ़ें: अखि‍लेश यादव ने करहल व‍िधानसभा सीट से द‍िया इस्‍तीफा, लोकसभा में आवाज करेंगे बुलंद