संवादसूत्र, अहेरीपुर : महेवा विकास खंड की ग्राम पंचायत अहेरीपुर में केंद्र व राज्य सरकार के स्वच्छ भारत मिशन की बुरी तरह धज्जियां उड़ रही हैं। इस मिशन से जुड़े अधिकारी सबकुछ जानते हुए मूकदर्शक बनकर तमाशा देख रहे हैं। जलभराव से गंदगीयुक्त पानी की सड़ांध से ग्रामीणों का जीना दुश्वार बना हुआ, संक्रामक रोगों से घर-घर लोग बीमार हैं इसके बावजूद कोई तबज्जो नहीं दी जा रही है। जलभराव व गंदगी की सड़ांध का दंश झेल रहे ग्राम के सुशील पांडेय, राममनोहर सिंह राठौड़, सुनील भदौरिया, सुरेश सिंह, हाकिम सिंह, रशीद खान, सुरेंद्र सिंह चौहान, भूरे सविता, विनोद कठेरिया आदि ने बताया कि कई सालों से बरसात में होने वाले जलभराव का दंश बरसात से लेकर दीपावली तक उठाना पड़ता है तथा इस मध्य तालाब में एकत्र होने वाली गंदगी से उत्पन्न होने वाली सड़ांध संक्रामक रोग तेजी से फैल रहे हैं। प्रतिवर्ष इसकी शिकायत जिला प्रशासनिक अधिकारियों की जाती है। अभी तक न तो जल निकासी की ही व्यवस्था की गई और ना ही साफ सफाई ही कराई गई। बीते साल तत्कालीन उपजिलाधिकारी भरथना से की थी कितु जल निकासी तो हुई नहीं बवाल हो गया था जिस पर कई लोगों को पुलिस की बर्बरता का शिकार होना पड़ा था। कस्बा के लोगों को गंदे पानी में घुसकर मां शीतला देवी के दर्शन करने जाना पड़ रहा है।

----------

शहर के मोहल्लों में हुई फागिग

जागरण संवाददाता, इटावा : डेंगू, मलेरिया के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मच्छरों की रोकथाम हेतु भाजपा नेता सभासद शरद बाजपेयी सजगता के साथ शहर के विभिन्न मोहल्लों राजागंज, सीओ आफिसर, हुईगंज, राजागंज हाता, गाड़ीपुरा चूड़ी बाजार, लालपुरा आंशिक वैरून पंसारी टोला, चौखर कुआं, उझैदी, शाहगंज, अकालगंज, कटरा टेक चंद्र, पचराहा, छैराहा, कुंज गली, कुंज फाटक आदि में हर बार की भांति इस बार भी साथ जाकर फागिग मशीन से दवा का छिड़काव कराया। उन्होंने कहा कि फागिग मशीन से दवा का छिड़काव बड़ी व छोटी दोनों मशीनों से कराया गया। उन्होंने लोगों से अपील की कि स्वच्छता का ध्यान रखें और अपने वार्ड में गंदगी न होने दें।

Edited By: Jagran