इटावा, जागरण संवाददाता। Etawah Ramleela Fire भरथना में लंका दहन से पहले बिजली के शार्ट सर्किट से रामलीला पंडाल में आग लग गई। इससे मंचन कर रहे कलाकारों में अफरा-तफरी मच गई। मौके पर पहुंची दमकल की टीम ने 20 मिनट बाद आग पर काबू पाया।

जवाहर रोड स्थित मिडिल स्कूल प्रांगण में चल रही रामलीला में बिजली के शार्ट सर्किट से अचानक आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इससे पंडाल में लगे पेंटिंग शुदा पर्दे, प्लास्टिक झालर तथा बांस बल्लियां भी जलने से ऊंची-ऊंची लपटें उठ गई।

दमकल कर्मियों ने पाया काबू

रामलीला मंच पीछे बने कलाकारों के मेकअप कक्ष को भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया, जिससे लंका दहन का मंचन शुरू होने से पहले कलाकार आग को देख इधर-उधर भाग गए। दर्शकों ने मंच के आसपास रखी प्लास्टिक की कुर्सियों को हटाना शुरू कर दिया। तब तक सूचना पर दमकल की टीम ने पहुंच कर कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया।

शार्ट सर्किट से लगी आग

रामलीला कमेटी के अध्यक्ष बड़े भदौरिया, कोषाध्यक्ष मदन सक्सेना ने बताया कि बिजली के शार्ट सर्किट की वजह से रामलीला पंडाल में आग लग गई। आग से किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। लेकिन रामलीला समिति के चंदा के रसीद कट्टा व कुछ धनराशि जल गई। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे नायब तहसीलदार संपूर्ण कुलश्रेष्ठ, कस्बा चौकी प्रभारी मलोक चन्द ने रामलीला कमेटी से पंडाल में लगी आग के कारणों की जानकारी हासिल की।

भदोही घटना से भी नहीं लिया सबक

गौरतलब है कि रविवार रात दुर्गा पंडाल में आग लगने से पांच की मौत हो गई थी। जबकि 50 झुलसे लोग अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे है। इसके बाद भी प्रशासन ने कोई सबक नहीं लिया। वहीं, जिले में भी भदोही जैसा हादसा होने से बचा है।

यह भी पढ़ें- खोह ढहने से तीन बच्चों की मौत और एक घायल, त्योहार पर घर की पुताई के लिए खोद रहे थे मिट्टी

यह भी पढ़ें- मंत्री को कोरथा गांव में घुसने से रोका, ग्रामीण बोले- बुला रहे थे तब क्यों नहीं आए

Edited By: Nitesh Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट