जागरण संवाददाता, इटावा : जनपद में विधान सभा चुनाव को लेकर नामांकन प्रक्रिया मंगलवार से शुरू होगी। ऐसे में जिला प्रशासन द्वारा तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी व जिलाधिकारी श्रुति सिंह चुनावी तैयारियों को लेकर सोमवार को संतुष्ट दिखीं और कहा कि सभी तैयारियां समय पर चल रहीं हैं। चुनाव निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से होगा। आयोग की मंशा के अनुसार चुनाव कराया जाएगा। किसी को भी गड़बड़ी करने की इजाजत नहीं होगी। दैनिक जागरण से बातचीत में उन्होंने बेबाकी से जवाब दिए। प्रश्न : आज से नामांकन शुरू हो रहा है, क्या तैयारियां हैं।

उत्तर : जनपद की तीन विधान सभाओं जसवंतनगर, इटावा सदर व भरथना सुरक्षित के लिए नामांकन कलेक्ट्रेट सभागार में मंगलवार से शुरू होगा। कक्षों का निर्धारण कर लिया गया है। शांतिपूर्ण ढंग से मतदान कराने की सारी व्यवस्थाएं कर ली गई हैं। इस बार 50 प्रतिशत से ज्यादा बूथों पर वेब कास्टिग की जाएगी। प्रश्न : मतदाताओं को इस चुनाव में क्या सुविधाएं मिलेंगी।

उत्तर : मतदाताओं की सुविधाओं के लिए चुनाव आयोग ने 11 जरूरी सेवाओं के लिए पोस्टल बैलेट व 80 वर्ष से ऊपर के बुजुर्गों व दिव्यांगों के लिए मतदान करने का विकल्प दिया है। इसके लिए उनसे एक सहमति पत्र भराया जाएगा। इस पर काम शुरू हो गया है। मतदाताओं को मतदान केंद्रों तक पहुंचने में कोई असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा। प्रश्न : कोरोना के बीच चुनाव किस प्रकार संपन्न होगा।

उत्तर : कोरोना के बीच चुनाव संपन्न कराना एक चुनौती है। मतदाताओं को मतदान केंद्र पर मास्क पहनकर आना होगा। सभी कर्मचारी भी मास्क पहनकर बूथों पर रहेंगे। कोविड की जो भी गाइड लाइन है उसका पालन सभी लोग करेंगे ताकि संक्रमण अधिक न फैले। प्रश्न : तमाम प्रशासनिक अधिकारी, कर्मचारी संक्रमित हो रहे हैं ऐसे में विकल्प के तौर पर क्या इंतजाम होंगे।

उत्तर : चुनाव में लगे प्रशासनिक अधिकारियों व कर्मचारियों के संक्रमित होने पर रिजर्व में रखे गए कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। इस बार कोरोना ज्यादा प्रभावी नहीं है, पांच छह दिन में व्यक्ति ठीक हो जा रहा है। प्रश्न : पंचायत चुनाव में बढ़पुरा ब्लाक में बवाल हुआ था, इस बार इसे रोकने के क्या इंतजाम होंगे।

उत्तर : पंचायत चुनाव में हुए बवाल में मतदान पर कोई असर नहीं पड़ा था, बूथ के बाहर बवाल हुआ था, इस बार ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो इसके निर्देश सभी अधिकारियों को दिए गए हैं। बढ़पुरा वाले मामले में पुलिस ने कार्रवाई भी की। प्रश्न: नामांकन के पश्चात चुनाव प्रचार किस तरीके से होगा।

उत्तर : चुनाव प्रचार के लिए अभी जो गाइड लाइन है उसमें केवल 10 लोग ही डोर टू डोर संपर्क कर सकते हैं। रैली जुलूस पर रोक लगी है। 31 जनवरी के जो निर्देश आएंगे उसका पालन होगा। प्रश्न : नई मंडी के व्यापारी मतगणना स्थल परिवर्तित करने की मांग कर रहे हैं।

उत्तर : नई मंडी का मतगणना स्थल बदला नहीं जाएगा। व्यापारियों का जो नुकसान होगा उनका किराया में समायोजन कर दिया जाएगा।

Edited By: Jagran