जागरण संवाददाता, इटावा : लाइनपार क्षेत्र के पचावली रोड के नालों की ठीक से सफाई न होने के कारण इस क्षेत्र का सारा गंदा पानी उल्टा अड्डा टीला की गलियों में भरने से इसकी हालत नरक जैसी हो गयी है। पचावली रोड के पश्चिमी किनारे पर गंदे पानी की निकासी के लिये जो नाला बना है, वह केवल अड्डा टीला-शिवपुरी तक बना है, उसके आगे नाला न बना होने की वजह से विजय नगर चैाराहा से रेलवे स्टेशन के नीचे से जिला कारागार के सामने होकर चैागुर्जी वाले नाले में जाने वाला पानी उल्टा बहकर अड्डा टीला में घुस रहा है। मच्छर तथा कीट पतंगे पैदा हो रहे हैं, तो दूसरी ओर लाखों रुपये के बजट से बमुश्किल से बना अड्डा टीला का रोड और नालियां धसकने लगी हैं। वार्ड का नाम : अड्डा ऊसरा वार्ड की आबादी : तकरीबन 8 हजार मोहल्ले का इतिहास : लाइनपार के अति विकसित इस मोहल्ले में ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने आकर अपने-अपने आलीशान मकान बनाए हुए हैं। खेतों को प्लाट बनाकर बसी इस बस्ती में शिक्षक, व्यापारी, चिकित्सक सहित अनेक वर्ग के लोग रह रहे हैं। इस मोहल्ले में तेजी से विकास तो हो रहा है, लेकिन बुनियादी सुविधाओं का अभाव बना हुआ है। मोहल्ले की प्रमुख समस्याएं : - नाले की सफाई नहीं गंदगी से जलभराव

- नाले का पूरा निर्माण नहीं गलियों में भरता पानी

- जर्जर व नाली विहीन गलियां

- वार्ड में गंदगी के अंबार ठेकेदार की हठधर्मी से नहीं बन रहीं गली : ठेकेदार द्वारा गली का निर्माण तो कराया जा रहा है, लेकिन कई जगह छोड़ दी गई है। घर के सामने कीचड़ होने के कारण मिट्टी भी अपने पैसों से डलवाई है। ठेकेदार नाली बनाने से मना कर रहा है। - गो¨वद यादव पचावली रोड किनारे बना मुख्य नाला विजय नगर चौराहा से लेकर फोरलेन हाईवे पुल तथा कोकपुरा शाला तक जगह-जगह जाम है। इस नाले के किनारे कई स्थानों पर गंदगी के लगे ढेरों पर जानवरों के विचरण से स्थिति और ज्यादा बदत्तर हो गयी है। - विजय बाबू कुशवाहा अड्डा टीला शिवपुरी के पास कुछ ही समय पूर्व बनाये गये 200 मीटर नाले के टुकड़े में लगभग 100 मीटर नाले के हिस्से को दबंगों ने मिट्टी डाल कर नाला ही बंद कर दिया है। जिन लोगों ने मिट्टी भरकर बंद कर रखा है उनके विरुद्ध सरकारी कार्य में बाधा डालने की कार्रवाई की जानी चाहिए। - इंदल ¨सह कोकपुरा शाला से लेकर विजय नगर चैाराहा तक नाले के ऊपर रखी पटियों और जाल आदि को पूरी तरह से हटवाकर ठीक ढंग से तली झाड़ सफाई कराई जावे, उसके बाद रेलवे लाइन से लेकर जिला कारागार प्रांगण के अंदर बने इस नाले का ठीक से निरीक्षण कराकर इसको चैागुर्जी की पुलिया तक सफाई कराई जाए ताकि लोगों को जल भराव से राहत मिल सके। - अजय ¨सह कुशवाहा जिम्मेदार बोले : वार्ड के लोगों के साथ भेदभाव नहीं किया जाएगा। गंदगी व जलभराव के कारणों की जांच कराई जाएगी। किसी भी समस्या का हल कराया जाएगा। - अनिल कुमार, अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस