जागरण संवाददाता, इटावा : महिला थाना में आयोजित परिवार परामर्श केंद्र पर सात परिवारों के बीच रविवार को समझौता कराया गया। प्रभारी निरीक्षक महिला थाना सुभद्रा वर्मा, अध्यक्ष चित्रा वेलफेयर सोसाइटी चित्रा परिहार की उपस्थिति में कमेटी के सदस्यों ने दंपतियों की बात सुनी। दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद सात परिवारों को बिखरने से बचाया गया। उन्हें परिवारिक महत्व के बारे में समझाया गया, पति-पत्नी को आपसी मतभेद भुलाकर एक-दूसरे के साथ रहने के लिए कहा गया। रविवार को कुल 24 फाइलें प्राप्त हुईं जिनमें सभी फाइलों पर विचार किया गया। चार फाइलों को बंद कर दिया गया जबकि सात फाइलों में समझौता कराया गया। समझौता होने वाले परिवारों में पूनम कुमारी पत्नी सतेंद्र निवासी ग्राम खड़कौली थाना बसरेहर, चांदनी देवी पत्नी राहुल निवासी नगला बाबा थाना सिविल लाइन, आरती यादव पत्नी दीप ¨सह निवासी सुजानपुर मड़ैया थाना ऊसराहार, गौरी पत्नी शिवदत्त निवासी रसीदपुर थाना नवाबगंज जनपद फर्रुखाबाद, रेखा पत्नी मनोज निवासी गुड्डा-गुड्डी का नाका थाना कंपू, ग्वालियर, शिवानी राठौर पत्नी विकास राठौर निवासी पुरानी मंडी श्यामलाल मार्ग थाना ताजगंज जनपद आगरा व यशोदा पत्नी ब्रजेश कुमार निवासी परासनी थाना सिविल लाइन शामिल हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस