जागरण संवाददाता, इटावा : पं. दीन दयाल उपाध्याय राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय कांधनी का निरीक्षण जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी प्रशांत कुमार ¨सह एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी विनीता चंद्रा ने निरीक्षण किया। इस दौरान मैस से लेकर विद्यालय में अनेक खामियां पाई गईं।

निरीक्षण के दौरान अधिकारी द्वय ने उपस्थित रजिस्टर का अवलोकन किया, जिसमें 17 संविदा कर्मियों के नाम अंकित किए गए हैं। सुधा ¨सह यादव के कालम में तीजा व्रत का अवकाश अंकित था, अवकाश संबंधी प्रार्थना पत्र नहीं मिला। इस मामले में प्रधानाचार्य निर्मल चंद्र बाजपेई को एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया। छात्रों को मिलने वाले में भोजन में दोपहर के खाने में आलू व पत्ता गोभी की सब्जी के साथ अरहर की दाल बनाई जा रही थी। दाल 400 बच्चों के लिए बताई गई जो कम थी। किशन स्टोर रूम में राशन की गुणवत्ता घटिया पाई गई। अरहर की दाल व चने की दाल की क्वालिटी भी हल्की मिली।

छात्रों से खाने व नास्ता के संबंध में जब पूछा गया तो सुबह के नाश्ते में तले हुए चने, केला व दूध दिया जाना बताया गया। बच्चों द्वारा नियमित के खाने की शिकायत की गई। इसको लेकर जिला समाज कल्याण अधिकारी ने संबंधित ठेकेदार को नोटिस देने के निर्देश दिए। बच्चों ने शिकायत की कि एक दिन छोड़ कर कददू व मसूर की दाल दी जाती है। परिसर में खड़ी साइकिलों के बारे में पूछा गया तो बताया गया कि बच्चे को¨चग जाते हैं, उन्हीं की यह साइकिलें हैं, उन्होंने इसे आपत्तिजनक बताते हुए कहा कि अगर ट्यूशन ही पढ़ना है तो अतिरिक्त क्लास लेनी चाहिए। बच्चो के विस्तर की चादर गंदी मिली तथा बिजली न आने की शिकायत की गई। इस पर संबंधित बिजली अधिकारी को व्यवस्था ठीक करने के लिए कहने को कहा गया।

Posted By: Jagran