संवाद सहयोगी, जसवंतनगर : सैफई, जसवंतनगर एवं अन्य गांवों के लोगो के लिए बाह, जैतपुर या आगरा जाने के लिए जसवंतनगर कचौरा घाट मार्ग पर अंडावली गांव की मोड़ के पास बंबा पर बनी पुलिया हादसों का मुख्य केंद्र बन चुकी है। यह मार्ग आगरा जाने के लिए सुगम है। इसी वजह से इस मार्ग पर ज्यादा वाहनों का आवागमन रहता है। यहां आए दिन भयावह हादसे होते रहते हैं। हादसा होने का मुख्य कारण है कि पुलिया पर रेलिग का न होना। यहां से गुजरने वाले भारी वाहन चालक तेज रफ्तार में चलने के कारण इस पुलिया का अंदाजा नहीं लगा पाते हैं जो एक दूसरे वाहन को ओवरटेक करने के चक्कर मे हादसे का शिकार हो जाते हैं। बीते 5 अक्टूबर की सुबह इसी पुलिया पर एक दंपती अपनी ससुराल जसवंतनगर के नगला उदय सिंह से लौट कर अपने घर थाना नगला खंगर फिरोजाबाद जा रहा था। जैसे ही इस पुलिया को पार करने लगे तथा जसवंतनगर की तरफ से आ रही तेज रफ्तार डीसीएम ने बाइक को टक्कर मार दी जिसमें पति की मौके पर ही मौत हो गई थी पत्नी को मरणा सन्न हालत में भर्ती कराया गया था। दो सप्ताह बाद बोलेरो पिकअप भी ओवरटेक के चक्कर में इसी पुलिया में जा घुसी थी गनीमत रही कि किसी को चोटें नहीं आई और एक बड़ा हादसा होने से टल गया। आए दिन हादसे होते रहते हैं लेकिन प्रशासन एवं लोक निर्माण विभाग का इस ओर कतई ध्यान नही दे रहा है, पुलिया पर रेलिग का निर्माण नहीं कराया गया तो हादसों को रुकना संभव न होगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस