जागरण संवाददाता, इटावा : बुधवार को डा. बीआर आंबेडकर जिला अस्पताल में 501 नये मरीज वायरल बुखार के पहुंचे, जिनको उपचार दिया गया । अस्पताल की लैब में डेंगू की जांच को पहुंचे 30 मरीजों के नमूने उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्व विद्यालय सैफई भेजे गए हैं। सीएमएस के अनुसार इस समय जिला अस्पताल में एक भी डेंगू का नहीं है। तीन मरीज जो भर्ती थे रैफर होकर बाहर चले गए हैं। बताया गया है कि 1096 मरीजों ने मुख्य रजिस्ट्रेशन काउंटर से तथा 205 मरीजों ने इमरजेंसी से पर्चा बनवाकर उपचार लिया। इस दौरान जहां तकरीबन 450 मरीजों ने पुराने पर्चे पर उपचार लिया वहीं डेंगू की जांच कराने 30 मरीज पहुंचे। जिन्हे जांच के लिए मेडिकल कालेज सैफई भेजा गया है। बच्चे भी हो रहे वायरल का शिकार जिला अस्पताल में इस समय बच्चे भी वायरल का शिकार होकर आ रहे हैं। हालत यह है कि हर रोज 150 से 200 बच्चे वायरल का शिकार होकर उपचार के लिए आ रहे हैं। शिशुरोग विशेषज्ञ डा. पीके गुप्ता का कहना है कि इन दिनों बच्चों के खान-पान पर ध्यान देने की जरूरत है। बाजार का कोई भी सामान खाने को न दें तथा गरम करके ठंडा किया हुआ पानी पिलाना चाहिए तथा हरी सब्जी व सलाद अधिक देना चाहिए। बच्चों की यूनिटी कम होने से वह विभिन्न बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। बुजुर्ग भी हो रहे वायरल का शिकार फिजीशियन डा. मंगल सिंह व डा. शांतनु निगम का कहना है कि इस समय एसी व कूलर की हवा के आदी बुजुर्ग वायरल की चपेट में आ रहे हैं। बुजुर्ग अगर परहेज से नहीं चले तो परेशानी हो सकती है। जिला अस्पताल में इस समय वायरल बुखार के सबसे अधिक मरीज आ रहे हैं। डेंगू का कोई मरीज नहीं है। डा. एमएम आर्या, सीएमएस

Edited By: Jagran