जागरण संवाददाता, इटावा : बेटी की बीमारी ठीक होने के नाम पर लड्डू बांट रहे शातिरों ने मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश की सीमा पर बसे भोया गांव में तीन परिवारों के 18 लोगों को बेहोश कर दिया। इसके बाद शातिर उनके घरों से जेवर-नकदी समेत 10 लाख रुपये का माल समेट ले गए। हैरान कर देने वाली इस घटना की सूचना पर पहुंची सहसों थाना पुलिस को मध्यप्रदेश के भिंड में पंजीकृत एक बाइक मिली है। पुलिस बाइक के नंबर के आधार पर जांच में जुटी है। इधर ग्रामीणों की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी पीड़ितों को जिला अस्पताल पहुंचाया।

पीड़ितों के मुताबिक शनिवार देर शाम बाइक सवार दो लोग गांव स्थित शिव मंदिर आए थे। बाइक सवार एक व्यक्ति ने अपनी पुत्री की कैंसर की बीमारी ईश्वर की कृपा से ठीक होने का दावा कर मंदिर में प्रसाद चढ़ाने के बाद गांव में लड्डू बांटे। लड्डू एक कार्टून में रखे थे। प्रसाद खाने के बाद लोग बेहोश हो गए। इसका फायदा उठाकर रात में बाइक सवार सुख सिंह चौहान, उनके छोटे भाई रमेश और विजय बहादुर सिंह यादव के घर से सोने-चांदी के जेवर-नकदी सहित करीब 10 लाख का माल समेट ले गए। सहसों थाना प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र शर्मा के मुताबिक पुलिस को घटनास्थल के पास से वैभव जैन पुत्र आर्यन जैन निवासी भिड मध्य प्रदेश के नाम से पंजीकृत पल्सर बाइक खड़ी मिली है। बाइक को पुलिस ने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह ने बताया कि पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस