जागरण संवाददाता, एटा: राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस गुरुवार को मनाया गया। सभी स्कूल व आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को एलबंडाजोल (पेट के कीड़े मारने की गोली) खिलाई गई।

जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने शीतलपुर ब्लॉक क्षेत्र के ग्राम असरौली के आंगनबाड़ी केंद्र, प्राथमिक विद्यालय और पूर्व माध्यमिक विद्यालय पहुंचकर बच्चों को गोली खिलाते हुए अभियान का शुभारंभ किया। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों को निर्देश दिए कि 29 अगस्त को दवा खाने से छूटे बच्चों को हर हाल में 30 अगस्त से 4 सितंबर के बीच मॉप अप सप्ताह में दवा खिलाई जाए। इसमें काई शिथिलता या लापरवाही नहीं होनी चाहिए। यदि कहीं से शिकायत मिली कि दवा खिलाने में खानापूर्ति की जा रही है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बच्चों के स्वास्थ्य के साथ किसी भी प्रकार की खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान आंगनबाड़ी केंद्र पर एक बच्ची का जन्मदिन केक काटकर मनाया गया। प्राथमिक और पूर्व माध्यमिक विद्यालय का निरीक्षण कर डीएम ने बच्चों से सवाल-जवाब किए। रसोईघर पहुंचकर एमडीएम की गुणवत्ता परखी। इस अवसर पर सीएमओ डॉ. अजय अग्रवाल, एसीएमओ डॉ. राम सिंह, डॉ. महाराज सिंह, डीपीओ संजय सिंह, सीडीपीओ सत्यप्रकाश पांडेय आदि अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप