जासं, एटा: तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हे आजादी दूंगा के नारे से जन-जन के भीतर आजादी का जज्बा जगाने वाले आजाद हिद फौज के सुप्रीम कमांडर सुभाष चंद्र बोस की जयंती जनपद में धूमधाम से मनाई गई। सामाजिक व राजनीतिक संगठनों ने कार्यक्रमों का आयोजन किया। वहीं सुभाष चौक पर लगी प्रतिमा को फूल मालाओं से लाद दिया।

शहर के हाथी दरवाजा स्थित सुभाष चौक पर एकत्रित जिला चित्रगुप्त कल्याण समिति के पदाधिकारियों ने चौक पर लगी नेताजी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। वहीं उनके व्यक्ति और कार्यो पर प्रकाश डाला। आजाद हिद सरकार की स्थापना करके विश्व के तमाम देशों से मान्यता लेने वाले महान सपूत के नारे और जयकारे गूंज उठे। अध्यक्ष रविद्र सहाय, महामंत्री अनिल प्रकाश सक्सेना, अनुपम जौहरी, आलोक जौहरी, डा. विकास सक्सेना, अमित जौहरी, दीनेश्वर सहाय, अमिताभ बिसारिया, संजीव सक्सेना, मुकुल सक्सेना, कर्णवीर सक्सेना, लाल बहादुर सक्सेना, सुभाष चंद्र सक्सेना, शशिकिशोर सक्सेना, सुधीर सक्सेना आदि मौजूद रहे। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों ने जिलाध्यक्ष शराफत हुसैन काले के साथ सुभाष चौक पहुंचकर नेताजी की प्रतिमा को नमन किया। काफी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे। वहीं शहर में कई स्थलों पर लोगों ने कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए महान नेता की जयंती मनाई।

Edited By: Jagran