एटा, जासं। जसरथपुर क्षेत्र में चुनाव ड्यूटी पर लगी फ्लाइंग स्क्वायड टीम पर हमला करने वाले दो हमलावरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जबकि मुख्य आरोपी समेत चार फरार हैं, जिनकी पुलिस तलाश कर रही है। हमलावरों ने मंगलवार की शाम चैकिग के दौरान टीम के साथ मारपीट की थी तथा फायरिग भी की। पुलिस ने संगीन धाराओं में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

उड़नदस्ता प्रभारी उद्यान निरीक्षक शिवराज सिंह अपनी टीम के साथ मैनपुरी बॉर्डर पर स्थित भनऊघाट पुल के पास चैकिग कर रहे थे, तभी गांव नगला परम निवासी मोहन उर्फ अभय प्रताप पुत्र रघुराज सिंह ने अपने आधा दर्जन साथियों के साथ टीम पर हमला कर दिया था। इस दौरान पुलिस कर्मियों से भी मारपीट की गई और टीम को भागकर जान बचानी पड़ी थी। हमलावरों ने फायरिग भी की। इस घटना के बाद काफी देर तक हंगामा होता रहा। हमले के बाद हरकत में आई पुलिस ने आरोपियों की तलाश में दनादन दबिश दीं और जयंत पुत्र रन सिंह, अक्षय पुत्र रन सिंह निवासी ढटींगरा को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान अन्य हमलावरों के नामों का भी पुलिस के समक्ष खुलासा हुआ है। उधर फ्लाइंग स्क्वायड प्रभारी ने आरोपियों के खिलाफ जानलेवा हमला, सरकारी कार्य में बाधा, एससीएसटी एक्ट तथा 7 अपराध अधिनियम के अंतर्गत एफआइआर दर्ज कराई है। पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस कॉफ्रेंस में एसएसपी स्वप्निल ममगाई ने बताया कि हमले के मुख्य आरोपी मोहन पर लूट, हत्या के प्रयास तथा बलवा आदि के 11 मामले दर्ज हैं। जसरथपुर क्षेत्र में फ्लैग मार्च कराया जा रहा है, जो भी शांतिभंग करने की कोशिश करेगा, उससे सख्ती से निपटा जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस