कीचड़युक्त दलदल से निकलने को मजबूर नौनिहाल

संवाद सूत्र, मारहरा : गांव मेंहनी का बरसात के दिनों में बुरा हाल है। स्कूली बच्चे कीचड़युक्त दलदल से निकलने को मजबूर हैं। स्कूल के रास्तों पर बरसात का गंदा पानी भरा है। विद्यार्थी अक्सर कीचड़ में फिसलकर चोटिल हो जाते हैं। विकासखंड क्षेत्र के गांव मेंहनी की सभी गलियां पिछले लंबे समय से उखड़ी हैं, जिसमें गांव की प्रमुख सड़क की हालत ज्यादा खराब है। गांव से मिरहची और मारहरा आने-जाने के लिए भी यही सड़क प्रयोग की जाती है। इतना ही नहीं गांव का प्राथमिक विद्यालय भी इसी मार्ग पर स्थित है। पूरी सड़क में गहरे-गहरे गड्ढे हो गए हैं। बरसात की वजह से सड़क में गंदा पानी भर गया है और सड़क ने कीचड़युक्त दलदल का रूप ले लिया है, जिससे यहां से गुजरने में ग्रामवासियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सबसे अधिक परेशानी गांव के छात्र-छात्राओं को होती है। स्कूल पहुंचने का यह प्रमुख मार्ग है। बच्चों को स्कूल आने-जाने के लिए इसी कीचड़ से होकर गुजरना पड़ता है। कीचड़ की फिसलन की वजह से अक्सर बच्चे गिर पड़ते हैं। गांववासी इसकी शिकायत कई बार ग्राम प्रधान और प्रशासनिक अधिकारियों से भी कर चुके हैं, लेकिन अब तक कोई सुनवाई नहीं हो सकी है। ------------ गांव की गलियां पूरी तरह से जर्जर हो चुकीं हैं। गलियों में खंरजों का निर्माण काफी समय पूर्व कराया गया था। उसके बाद कोई कार्य नहीं कराया गया। वर्तमान में सभी सड़कें बदहाल पड़ी हैं। - अनुज यादव प्रशासन की अनदेखी का शिकार गांववासियों के साथ-साथ मासूम बच्चों को भी होना पड़ रहा है। स्कूल आने-जाने के लिए यह सड़कें जोखिम भरी बन चुकी हैं। - अजीत कुमार -- गांव में पानी की टंकी का निर्माण कार्य चल रहा है। जिसके चलते वजह से भारी वाहन सड़कों से गुजर रहे हैं। बरसात भी हो रही है। इसी वजह से कुछ सड़कों में गड्ढे बन गए हैं। सड़कें बनवाने का प्रस्ताव शासन को भेजा जा चुका है। स्वीकृत होते ही काम शुरू कराया जाएगा। - रमेशचन्द्र, ग्राम प्रधान, मेंहनी

Edited By: Jagran