जासं, एटा: गोली मारकर खुदकुशी करने वाले बापू नगर निवासी किशोर अभिषेक द्वारा की गई खुदकुशी की घटना को लेकर दो दारोगा, एक हेड कांस्टेबल और सिपाही के खिलाफ आत्महत्या को प्रेरित करने की एफआइआर दर्ज कराई गई है।

देर शाम तक मृतक के शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका था। परिवार के लोग एफआइआर दर्ज किए जाने की मांग कर रहे थे। इसके बाद पुलिस रिपोर्ट दर्ज करने के लिए राजी हो गई। मृतक अभिषेक के पिता रवींद्र सिंह चौहान ने शहर कोतवाली में पुलिस को तहरीर दी, जिसमें एसआइ मोहित राणा, एसआई शिव कुमार, हेड कांस्टेबल विजेंद्र सिंह तथा सिपाही रमेश कुमार को खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोपित बनाया गया है। इन सभी के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर ली गई, तब मृतक का पोस्टमार्टम हो सका। दारोगा शिव कुमार इस समय प्रशिक्षण पर गए हैं। चारों आरोपित घटना के समय शहर कोतवाली में ही तैनात थे। दरअसल जो आडियो वायरल हुआ है उसमें इन सभी आरोपितों के नाम आ रहे हैं। आडियो की सारी बातें सुनने से पुलिस कर्मियों की गलती भी दिखाई दे रही है कि उन्होंने किस तरह से चोरी के आरोप में पकड़कर 16 साल के लड़के को मादक पदार्थों का तस्कर बना दिया और आधा किलो डायजापाम लगाकर जेल भेज दिया।

बता दें कि दारोगा मोहित राणा की तैनाती जब से एटा में रही तभी से उसके खिलाफ तमाम शिकायतें पुलिस अधिकारियों के पास पहुंची, लेकिन कार्रवाई कभी नहीं की गई। सबसे ताजा प्रकरण मलावन थाने का था, जहां इस दारोगा की तैनाती रही और एक युवक की थाने में ही जबरदस्त पिटाई की थी, जिस पर इसके खिलाफ जांच भी बैठाई गई, जबकि इससे पहले अभिषेक का मामला सामने आया था। उधर पोस्टमार्टम गृह पर दिनभर काफी गहमागहमी रही। पुलिस के काफी समझाने पर भी एफआइआर दर्ज होने तक पोस्टमार्टम कराने से परिवार के लोगों ने इंकार कर दिया। एसएसपी उदयशंकर सिंह ने बताया कि मृतक के परिवार द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर चार पुलिस कर्मियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई गई है और गंभीरतापूर्वक मामले की जांच की जाएगी, जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई हागी। तत्कालीन एएसपी कर रहे थे दारोगा की जांच

-मैनपुरी के छात्रा दुष्कर्म हत्याकांड के मामले को लेकर निलंबित हुए एटा के तत्कालीन एडीशनल एसपी ओपी सिंह दारोगा मोहित राणा के विरुद्ध अभिषेक के परिवार द्वारा की गई शिकायत की जांच कर रहे थे। तब तक उनके खिलाफ कार्रवाई हो गई। यह जांच एसएसपी उदयशंकर सिंह ने सौंपी थी।

Edited By: Jagran