मारहरा (एटा): एक ओर जहां सरकार शिक्षा का स्तर बढ़ाने के लिए तमाम योजनाएं चला रही है तो वहीं दूसरी ओर शिक्षा के जिम्मेदार सरकार की इस मंशा की धज्जियां उड़ा रहे हैं। विद्यार्थियों की पढ़ाई लिखाई छुड़ाकर, उनसे मजदूरी करायी जा रही है। मारहरा के एक स्कूल के छात्रों द्वारा मिड-डे मील का गेहूं पिसाने का एक वीडियो वायरल हुआ है।

गुरुवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो ने स्कूल की पोल खोलकर रख दी है। वीडियो में स्कूली यूनिफार्म पहने तीन छात्र साइकिल पर अनाज की बोरी लादकर कहीं ले जाते दिखाई दे रहे हैं। तभी दो युवक उन्हें रोक कर पूछते हैं कि वह किस स्कूल के छात्र हैं। पहले तो छात्र बताने से झिझकते हैं, लेकिन बाद में एक छात्र बताता है कि वह कस्बा के रानी अवंतीबाई इंटर कॉलेज के छात्र हैं और प्रधानाचार्य के कहने पर गेहूं पिसाकर स्कूल ले जा रहे हैं।

विद्यार्थियों द्वारा स्कूलों की मजदूरी की यह कोई पहली तस्वीर नहीं है। ऐसे दृश्य जब तब देखने को मिल जाते हैं। कहीं विद्यार्थियों से झाड़ू लगवायी जा रही है, कहीं टॉयलेट साफ कराए जा रहे हैं तो कहीं मध्यावकाश भोजन बनाने में मदद ली जा रही है। फिलहाल मारहरा के स्कूल में छात्रों से काम कराने का यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वहीं विद्यार्थियों के अभिभावकों ने इस पर रोष जताते हुए विभाग से कार्रवाई की मांग की है। इनमें मुहम्मद उवैश, प्रेमपाल सिंह, जितेंद्र कुमार, मानसिंह, राजेश आदि शामिल हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस