जासं, एटा : संदीप गुप्ता हत्याकांड के विरोध में शनिवार को एटा बंद का आह्वान किया गया है। पूर्व बेला पर व्यापारी संगठनों, किसान यूनियनों और व्यापारियों ने जुलूस निकालकर बंद रखने की अपील की। सुबह 11 बजे ग्रीन गार्डन से जुलूस निकाला जाएगा और प्रदर्शन करते हुए डीएम, एसएसपी को ज्ञापन भी दिया जाएगा। कई संगठनों ने बंद को समर्थन दिया है।

अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुमंत गुप्ता के आह्वान पर जिला बंद का आयोजन किया गया है। बंद को उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल, उद्योग व्यापार मंडल, किसान संगठनों और विपक्षी दलों ने समर्थन दिया है। बंद के तहत जिला मुख्यालय पर सुबह 11 बजे ग्रीन गार्डन में प्रदर्शनकारी एकत्रित होंगे और यहां से जुलूस निकाला जाएगा। प्रदर्शन करते हुए लोग कलक्ट्रेट पहुंचेंगे, जहां डीएम-एसएसपी को ज्ञापन देंगे। परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि शासन के समक्ष चार मांगें रखीं हैं जिनमें संदीप गुप्ता की हत्या की जांच सीबीआइ से कराने, परिवार को पूर्ण सुरक्षा देने, प्रत्येक साजिशकर्ता को बेनकाब करने और शूटरों को सख्त सजा दिलाने की मांग शामिल हैं। जब तक ये मांगें पूरी नहीं होंगी तब तक वैश्य समाज के लोग और व्यापारी आंदोलन करते रहेंगे।

परिषद के राष्ट्रीय महासचिव एवं उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल के जिलाध्यक्ष प्रमोद गुप्ता ने कहा कि जिला मुख्यालय के अलावा सभी कस्बाई इलाके पूर्णत: बंद रहेंगे। उन्होंने व्यापारियों से अपील की है कि वे अपनी दुकानें न खोलें। उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष प्रदीप गुप्ता, जिला महासचिव राकेश वाष्र्णेय, नगर अध्यक्ष अतुल राठी ने भी बाजार बंद रखने का आह्वान किया है। उधर, अलीगंज में क्रमिक अनशन भी चलता रहा। अलीगंज, जलेसर, मारहरा, सकीट, अवागढ़, निधौली कलां, मिरहची, जैथरा, राजा का रामपुर आदि कस्बों में भी बंद का आह्वान किया गया है। संगठनों ने दिखाई एकजुटता, किया प्रदर्शन

-संदीप गुप्ता हत्याकांड के विरोध में बुलाए गए बंद से एक दिन पूर्व जिला मुख्यालय पर समाजवादी पार्टी, अखिल भारतीय किसान यूनियन, कांग्रेस तथा व्यापारी संगठनों ने शहर में जुलूस निकाला और नारेबाजी की। इस दौरान नेताओं ने कहा कि संदीप गुप्ता समाजसेवी थे। उनकी हत्या करने वाले अभी खुले घूम रहे हैं। जब तक इंसाफ नहीं मिलेगा तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

Edited By: Jagran