जागरण संवाददाता, एटा: सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी कार्यालय में चूहों ने मेन नेटवर्क केबिल काट दी। जिससे पूरा ऑनलाइन काम ठप हो गया। सोमवार से मंगलवार तक यह स्थिति रही। सैकड़ों की संख्या में लोग परेशान रहे। सब्र टूटा तो मंगलवार को एआरटीओ का घेराव कर हंगामा किया। शाम के समय फॉल्ट पकड़ में आने के बाद उसे दुरुस्त कराया गया।

एआरटीओ कार्यालय में रजिस्ट्रेशन, लाइसेंस, फीस, फिटनेस, ट्रांसफर आदि से संबंधित अधिकांश काम ऑनलाइन ही होते हैं। लेकिन सोमवार को जब कार्यालय खुला तो इंटरनेट नहीं चल रहा था। कर्मचारी अस्थाई कमी मानकर इसके सही होने का इंतजार करते रहे। लेकिन घंटों बाद भी जब स्थिति सामान्य नहीं हुई तो अपने स्तर से तकनीशियन बुलाकर चे¨कग कराई गई। पूरा दिन निकल गया लेकिन न तो नेटवर्क दुरुस्त हो सका और न ही ऑनलाइन संबंधी कोई काम हुआ। मंगलवार सुबह से काम होने का आश्वासन देकर लोगों को वापस कर दिया गया। लेकिन मंगलवार को भी वही स्थिति थी। इंटरनेट की समस्या की आशंका के मद्देनजर अधिकारियों ने बीएसएनएल से शिकायत की। जिनके तकनीशियनों ने कार्यालय पहुंचकर जांच-पड़ताल शुरू कर दी। शाम करीब 4 बजे पकड़ में आया कि लोकल नेटवर्किंग की फाइबर केबिल को चूहों ने काट दिया था। जिसके चलते पूरी इंटरनेट व्यवस्था ठप थी। इस बीच दो दिन तक लोग खासे परेशान रहे। लोगों का कहना था कि कार्यालय शहर से काफी दूर है। जहां बार-बार आने में काफी असुविधा होती है। वहीं कुछ लोग ऐसे भी थे, जिन्हें औपचारिकता पूरी करने के लिए सोमवार या मंगलवार की तारीख दी गई थी। इन दिनों में काम न होने से उन पर पैनल्टी लगेगी।

Posted By: Jagran