जागरण संवाददाता, एटा : अखिल भारतीय प्रधान संगठन के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष संतोष यादव ने कहा कि प्रधानों के हक की लड़ाई लड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। शोषण करने वालों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। 28 अक्टूबर को लखनऊ में प्रधानों की रैली आयोजित की जाएगी।

यहां प्रधानों की बैठक में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रधान संगठन हमेशा प्रधानों के हक के लिए लड़ता रहा है और यह संघर्ष आगे भी जारी रहेगा। अगर किसी भी प्रधान का शोषण किया जाएगा तो कड़े विरोध का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि 73वें संविधान संशोधन विधेयक के तहत विषय और उनसे जुड़े अधिकारों के लिए आदर्श व्यवस्था लागू करना है। उन्होंने कहा कि 28 अक्टूबर को होने वाली रैली के लिए जिलेभर के प्रधान लखनऊ पहुंचेंगे। इससे पहले नवनियुक्त अध्यक्ष का स्वागत किया गया। इसके अलावा ओमवीर सिंह को जिला प्रवक्ता, मनोज यादव को जिला महासचिव, प्रदीप यादव को जिला कोषाध्यक्ष, प्रवीन कुमार को मंडल महासचिव बनाया गया। बैठक में वेद यादव, विनय कुमार यादव, भानु प्रताप, कृपाल सिंह, विमल यादव, योगेश दिवाकर, सुशील कुमार, रामवीर सिंह, मंजीत सिंह राठौर आदि मौजूद रहे। पुरानी पेंशन बहाली को जिले में 22 को होगा पैदल मार्च: आल टीचर्स एंप्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन के पुरानी पेंशन बहाली मंच ने एक बार फिर पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर आंदोलन तेज करने की तैयारी की। जिसमें 22 अक्टूबर को जिले में पदयात्रा निकाली जाएगी।

22 अक्टूबर को जिले में होने वाले पैदल मार्च के लिए प्रत्येक ब्लाक स्तर पर सरकारी कार्यालयों व विभागों में जन संपर्क का काम चल रहा है। जिला संयोजक डा. ओमेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि 21 नवंबर को लखनऊ में प्रदेश स्तरीय धरना प्रदर्शन होगा। जन संपर्क अभियान में नंदलाल, प्रेक्षा तिवारी, पारुल गुप्ता, मेलिना चौहान, राकेश कुमार कुशवाह, कामना यादव, राजेंद्र कुमार, ललित कुमार, धीरेंद्र यादव, अजय, मनोज, आशा चौधरी आदि ने प्रतिभाग किया।

Edited By: Jagran