एटा, जागरण संवाददाता: स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर हंगामेदार हालात बन गये। होमगार्ड जवानों ने डॉक्टर पर अवैध वसूली का आरोप लगाया। एएसडीएम के पास पहुंच शिकायत की।

पिछले दिनों जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने सभी होमगार्ड जवानों का स्वास्थ्य परीक्षण कराने के निर्देश दिए हैं। जिसके अंतर्गत ही मंगलवार को क्षेत्र के होमगार्डों का स्वास्थ्य परीक्षण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर तय किया गया। यहां उनके बीपी, ²ष्टि दोष, सुगर आदि की जांचें होनी थीं। इसी दौरान वसूली की शिकायत उठी। होमगार्ड जवानों ने आरोप लगाया कि प्रभारी चिकित्साधिकारी स्वास्थ्य परीक्षण के लिए पांच-पांच सौ रुपये मांग रहे हैं। इसे लेकर जवानों में आक्रोश पनप गया। यहां एकत्रित होकर सभी जवान ब्लॉक कार्यालय पहुंचे। जहां मौजूद अपर उपजिलाधिकारी शिव सिंह से मुलाकात कर उन्हें अवैध वसूली की जानकारी दी। एएसडीएम ने सूचना सीएमओ डॉ. अजय अग्रवाल को फोन पर दी। साथ ही आरोपित चिकित्सक के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की बात कही। उधर होमगार्ड जवानों ने एकराय होकर निर्णय लिया कि स्वास्थ्य परीक्षण के नाम पर अवैध वसूली किए जाने की शिकायत बुधवार को जिला मुख्यालय पर पहुंचकर जिलाधिकारी से कर न्याय की गुहार लगाएंगे।

वर्जन

-------

स्वास्थ्य परीक्षण के लिए किसी भी तरह की वसूली का आरोप झूठा है। किसी भी जवान से रुपयों की मांग नहीं की गई। परीक्षण के दौरान जिन जवानों में ²ष्टि दोष पाया गया उनको चश्मा व जिनका बीपी बढ़ा हुआ था उनको दवा लेने की सलाह दी गई।

- डॉ. राहुल कुमार प्रभारी चिकित्साधिकारी

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप