जागरण संवाददाता, एटा: कोतवाली नगर पुलिस ने साढ़े चार माह पूर्व शहर में हुई किन्नर राधा गुरु की हत्या के छह आरोपियों पर गैंगस्टर की कार्रवाई की है। सभी आरोपी जिला कारागार में निरुद्ध हैं।

चित्रगुप्त कॉलोनी निवासी 90 वर्षीय किन्नर राधा गुरु की लाखों की लूट के बाद हत्या की योजना साथी किन्नर कोतवाली देहात के ग्राम चांदपुर ¨जदाहार निवासी शीतल ने बनाई थी। उसने वारदात में शामिल करने वाले लोगों को लाखों रुपये की संपत्ति मिलने का लालच दिया था। पुलिस ने बताया कि सीओ सिटी वरुण कुमार ¨सह के निर्देश पर कोतवाली नगर के इंस्पेक्टर पंकज कुमार मिश्रा ने किन्नर शीतल के अलावा हत्या और लूटकांड में शामिल कोतवाली नगर क्षेत्र के ग्राम गंगनपुर निवासी करण यादव पुत्र ताराचंद्र, रिजोर क्षेत्र के ग्राम खेरिया निवासी बौहरे यादव पुत्र रामवीर ¨सह, निधौली खुर्द निवासी अमित पुत्र महेशचंद्र, मुनीश पुत्र रवेंद्र ¨सह तथा कासगंज जिले के गंजडुंडवारा क्षेत्र के कुआं खेड़ा निवासी पप्पू के खिलाफ गिरोहबंद अधिनियम की कार्रवाई की है।

किन्नर हत्याकांड के सभी आरोपी जिला कारागार में निरुद्ध हैं। पुलिस ने बताया कि 8 जून को दोपहर घर पर मौजूद किन्नर गुरु राधा की सिर में गंभीर चोट पहुंचाने के बाद गला घोंटकर हत्या की गई थी। वारदात के दौरान चीखपुकार न मचा पाए इसके लिए आरोपियों ने उसके दोनों हाथ बांध दिए थे और मुंह पर टेप चिपका दिया था। हत्या के बाद आरोपी लाखों के आभूषण और नकदी लूटकर भाग गए थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस