संसू, राजा का रामपुर: गांव ताजपुर अद्दा में गुंडागर्दी का खुला खेल खेला गया। एक वृद्ध किसान की ट्रैक्टर चालक और उसके परिवार के सदस्यों ने बेरहमी से पिटाई की और उसके बाद ट्रैक्टर चढ़ाकर हत्या कर दी। घटना के बाद लोग एकत्रित हो गए और उन्होंने आरोपित का घर फूंक दिया। इस सनसनीखेज वारदात के बाद गांव में पुलिस तैनात कर दी है।  ग्राम ताजपुर अद्दा में गुरुवार सुबह आठ बजे गांव के निवासी 70 वर्षीय किसान रामसेवक शर्मा ने तंबाकू के लिए गांव के सतेंद्र सिंह के चार बीघा खेत की अलीगंज कोतवाली क्षेत्र के ग्राम अमोघपुर निवासी अश्वनी कुमार से जुताई कराई थी, जिसके पैसे रामसेवक ने दे दिए।

Social Media से दोस्त बना रहे हैं तो सावधान, FB पर दोस्ती हुई, मिले फिर मनाई पार्टी, शराब पिला कर लूटी ज्वैलरी

एक हजार रुपये के लिए चढ़ा दिया ट्रैक्‍टर

जुताई के पिछले एक हजार रुपये को लेकर अश्वनी और रामसेवक के बीच कहासुनी हो गई। आरोप है कि विवाद की जानकारी मिलते ही अश्वनी का पिता रामकिशोर उर्फ पप्पू, भाई राहुल व आशीष मौके पर पहुंच गए। इस दौरान लाठी-डंडों से हमला कर रामसेवक को घायल करने के बाद अश्वनी ने ट्रैक्टर चढ़ाकर उनकी हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित ट्रैक्टर चालक अश्वनी, उसके भाई व पिता मौके से भाग गए। खेत पर मौजूद किसान के पुत्र अनिल का कहना था कि आरोपितों ने उसे भी घेरने का प्रयास किया था, लेकिन वह भाग गया। हमले के बाद ट्रैक्टर चढ़ाकर किसान की हत्या की जानकारी मिलते ही तमाम ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। सीओ अलीगंज विक्रांत द्विवेदी भी सर्किल के फोर्स के साथ मौका ए वारदात पर पहुंचे।

भीड़ ने आरोपियों के घर में लगा दी आग

उधर भीड़ ने आरोपितों के कंपिल रोड स्थित मकान में आग लगा दी। मौके पर पहुंचे अग्निशमन दल ने आग पर काबू पाया। सीओ ने बताया कि किसान के पुत्र अनिल की तहरीर पर मामले की प्राथमिकी अश्वनी, उसके भाई राहुल, आशीष व पिता रामकिशोर के विरुद्ध पंजीकृत कर ली है। आरोपितों की तलाश की जा रही है। एक घंटे तक सीमा विवाद में उलझी रही पुलिस जिस स्थान पर वारदात को अंजाम दिया गया, उस जगह एटा- फर्रुखाबाद जनपद के अलावा थाना राजा का रामपुर और अलीगंज कोतवाली का बार्डर भी है।

सीमा विवाद में उलझी रही पुलिस 

सीमा विवाद को लेकर एक घंटे तक दो थानों की पुलिस उलझी रही। सीओ ने मामले की जानकारी तहसीलदार को दी। मौके पर पहुंचे लेखपाल शीषराम ने पड़ताल की तो घटना स्थल राजा का रामपुर क्षेत्र में निकला। पुलिस अभिरक्षा में दिव्या को भेजा स्कूल हत्या की वारदात के बाद ग्राम हत्सारी स्थित तारा सिंह डिग्री कालेज में बीए प्रथम वर्ष की अंग्रेजी का पेपर देने जा रही आरोपित अश्वनी की बहन दिव्या डर की वजह से आगे नहीं बढ़ी। सीओ अलीगंज ने उसे पुलिस अभिरक्षा में कालेज तक भेजा। आरोपित की बहन ने लूट का लगाया आरोप आरोपित की बहन दिव्या ने पुलिस को बताया कि उसके घर पर करीब 100 लोगों की भीड़ आई थी।

भीड़ ने उसकी आटा चक्की में रखा गेहूं और घर में रखे तंबाकू की लकड़ी की बिक्री के सात लाख रुपये लूटकर ले जाने का आरोप लगाया है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि आग लगाने का आरोपित पक्ष द्वारा नाटक किया गया है। आगजनी की नहीं मिली कोई तहरीर अलीगंज के इंस्पेक्टर राजेश कुमार मीणा ने बताया कि कंपिल मार्ग के इस ओर कोतवाली क्षेत्र की सीमा है। आरोपित की बहन द्वारा भीड़ पर मकान में आगजनी और लूट करने का जो आरोप लगाया जा रहा है, उस संबंध में शाम तक पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है।

यह भी पढ़ें- Central Jail में 20 साल काटी निर्दोष विष्णु ने सजा, अब 18 महीनों से टूटी झोपड़ी में 'कैद', सरकारी वादे अधूरे

Edited By: Mohammed Ammar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट