जासं, एटा: मेडिकल कालेज में लगी लाखों रुपये की कीमत वाली डिजिटल एक्सरे मशीन के कमरे की छत ठीक न होने के कारण बंद पड़ी हुई है। मरीजों के साथ ही चिकित्सकों को भी एक्सरे के लिए परेशानी हो रही है। ऐसे में अब मेडिकल प्रशासन ने नए निर्माणाधीन भवन में डिजिटल एक्सरे मशीन को शिफ्ट कराने की कार्रवाई शुरू की है। इसके बाद जल्द ही मरीजों को राहत मिलने की संभावना है।

मेडिकल कालेज परिसर में बने एक कमरे में डिजिटल एक्सरे मशीन का संचालन किया जा रहा था। पिछले दिनों वर्षा के कारण भवन की छत टपक गई थी, जिससे कमरे के अंदर तक पानी पहुंच गया था। पानी के कारण मशीन में खराबी आने से दीवारों पर करंट भी फैल रहा था। इसे लेकर करीब एक माह से डिजिटल एक्सरे मशीन का संचालन बंद नहीं हुआ। 

कंपनी ने संचालन से कर दिया था इनकार

मशीन खराब होने की जानकारी कंपनी को दी गई थी। कंपनी के अधिकारियों ने छत ठीक न होने तक मशीन संचालन चालू कराने से मना कर दिया था। इसके बाद भी मेडिकल कालेज प्रशासन ने उसी कमरे में मशीन संचालन शुरू कराने के लिए कंपनी वालों से कहा। इस पर कंपनी के कर्मचारियों ने कमरे का निरीक्षण कर उस भवन में संचालन न होने का इनकार कर दिया। 

इसे लेकर अब मेडिकल कालेज प्रशासन ने डिजिटल एक्सरे मशीन का संचालन निर्माणाधीन भवन के एक कक्ष में कराने की कार्रवाई शुरू कर दी है। वहीं, मेडिकल कालेज मीडिया प्रभारी डा. विवेक पराशर ने बताया कि नए भवन में मशीन स्थापित कराने के लिए कार्रवाई शुरू कर दी गई है। जल्द ही नए भवन में मशीन से एक्सरे शुरू कराए जाएंगे।

Edited By: Shivam Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट