जागरण संवाददाता,एटा : पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष व सपा नेता जुगेंद्र सिंह यादव समेत छह लोगों के खिलाफ लूट, जानलेवा हमला और छेड़छाड़ की एफआइआर दर्ज कराई गई है।

पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष के गांव जसरथपुर थाना क्षेत्र के अमृतपुर निवासी महिला ने तहरीर में लिखा है कि दो जून, 2021 को वह अपने पुत्र के साथ गांव अकबरपुर कोट के पास से गुजर रही थी। बीच रास्ते में इनोवा व फा‌र्च्यूनर कार खड़ी थीं। इनमें से पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव, उनका पुत्र पुष्पेंद्र यादव व दो भतीजे प्रमोद यादव पुत्र रामेश्वर सिंह यादव, विनोद यादव पुत्र रामखिलाड़ी यादव और पूर्व ब्लाक प्रमुख रामनाथ यादव एवं उनका पुत्र विक्रांत यादव उतरे। अपहरण की नियत से महिला के पुत्र को गाड़ी में डाल लिया। महिला ने विरोध किया तो पुष्पेंद्र ने तमंचे से तीन फायर किए। पूर्व ब्लाक प्रमुख ने महिला की पिटाई की, उसका पर्स छीन लिया, जिसमें सात हजार रुपये थे। आरोपितों ने जान से मारने की धमकी भी दी। सीओ अलीगंज राघवेंद्र सिंह राठौर ने बताया कि महिला की तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई गई है,मामले की छानबीन की जा रही है। रास्ते के विवाद में हमला, मां-बेटी घायल: बागवाला थाना क्षेत्र में रास्ते के विवाद में कुछ लोगों ने हमला कर मां-बेटी को घायल कर दिया।

रविवार सुबह ग्राम तालिमपुर खेरिया में रास्ते के विवाद को लेकर हरवीर सिंह और रक्षपाल सिंह के स्वजन के बीच कहासुनी हो गई। आरोप है कि कहासुनी के बाद हरवीर ने तीन अन्य स्वजन की मदद से लाठी-डंडों से हमला कर रक्षपाल की पत्नी सुमा देवी तथा बेटी प्रियंका को घायल कर दिया। हमले में घायल मां-बेटी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दूसरी ओर मलावन थाना क्षेत्र के ग्राम बहादुरपुर में मां सुशीला देवी की चारपाई तोड़ने का विरोध करने पर वीरेश कुमार ने नल के हत्था से प्रहार कर छोटे भाई वीरेश को घायल कर दिया। उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वहीं निधौलीकलां थाना क्षेत्र के ग्राम पृथ्वीपुर निवासी मनोज ने देवीलाल समेत चार के खिलाफ मारपीट कर घायल करने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसके अलावा जलेसर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम नगवई में सुबोध ने तीन अन्य स्वजन की मदद से मारपीट कर संतोष को घायल कर दिया। घटना की रिपोर्ट सुबोध समेत चार के खिलाफ दर्ज कराई है।

Edited By: Jagran