एटा, जागरण संवाददाता: थाना जैथरा के गांव धरौली के पास बाइक सवार साले को उसके जीजा ने जानबूझकर कैंटर से रौंद दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में बाइक पर बैठा चचेरा साला गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के दौरान मृतक की बहन कैंटर में थी, जिसे उसका पति जबरन मायके से लेकर जा रहा था। हादसे के बाद मृतक के घर में कोहराम मचा है, जबकि जीजा फरार है।

जैथरा क्षेत्र के ही गांव खेतूपुरा में नगला डांडी निवासी आरती की छह साल पूर्व शादी ब्रजेश के साथ हुई थी। तीन दिन पूर्व पति से नाराज होकर आरती अपने मायके नगला डांडी चली आई थी। उसका पति ब्रजेश कैंटर चालक है, जो मंगलवार शाम नगला डांडी पहुंच गया और जबरन वहां से अपनी पत्नी को कैंटर में बैठाकर ले जाने लगा। घर पर ब्रजेश का 16 वर्षीय साला विवेक और उसका चचेरा भाई अरुण ही मौजूद थे। माता-पिता घर पर नहीं थे। इसलिए साले ने बहन को ले जाने से मना किया तो ब्रजेश ने उसके साथ गाली गलौज कर दी और जबरन कैंटर में आरती को बैठा लिया। जब वह कैंटर लेकर चल दिया तो विवेक और उसके भाई अरुण ने बाइक से कैंटर का पीछा किया और ओवरटेक करके ट्रक के सामने आकर बाइक लगा दी। लेकिन ब्रजेश ने कैंटर रोका नहीं और बाइक में टक्कर मार दी।

घटना को अंजाम देकर ब्रजेश कैंटर लेकर भाग गया, जबकि विवेक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया तथा अरुण गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में ले लिया।

इधर कैंटर चालक आरोपित जीजा कैंटर को मैनपुरी के कुरावली तक दौड़ा ले गया, जहां कोतवाली के समीप वह कैंटर छोड़कर भाग निकला। एसओ जैथरा सतपाल भाटी ने बताया कि मृतक के पिता चरन सिंह की तहरीर पर दुर्घटना की रिपोर्ट दामाद ब्रजेश के खिलाफ दर्ज कर ली गई है। आरोपित की तलाश की जा रही है। कहां है आरती

-------------

आरोपित जीजा फरार है तथा वह पत्नी आरती को भी अपने साथ ले गया है। भाई की मौत होने के बाद भी उसकी बहन गांव तक नहीं पहुंच पाई। पोस्टमार्टम गृह पर भी यह चर्चा रही कि आखिर आरती कहां है और किस हाल में है। मायके पक्ष का कहना है कि पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था, जिसकी वजह से वह ससुराल से चली आई थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस