एटा, जासं। इन दिनों भी डा. बीआर आंबेडकर विश्वविद्यालय की परीक्षाओं का जोर परीक्षा केंद्र बने कॉलेजों की रौनक बढ़ा रहा है। सोमवार को मुख्यालय स्थित जवाहरलाल नेहरू डिग्री कॉलेज में सुबह बीपीएड चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा के दौरान उड़नदस्ते ने 1 नकलची को पकड़ लिया। उधर शाम की पाली में बीएड प्रथम वर्ष के तृतीय प्रश्नपत्र की परीक्षा में अनुपस्थित परीक्षार्थियों की संख्या में 9 का इजाफा हुआ।

जेएलएन कॉलेज में इन दिनों बीपीएड तथा बीएड की परीक्षाएं अलग-अलग पालियों में आयोजित की जा रही हैं। सुबह की पाली के दौरान महाविद्यालय के उड़नदस्ते ने तलाशी के दौरान एक परीक्षार्थी से नकल सामग्री पकड़ी। इसके बाद परीक्षार्थी की कॉपी सील कर अग्रिम कार्रवाई की गई। इस परीक्षा में पहला परीक्षार्थी नकल करते पकड़ा गया है। इसी क्रम में शाम की पाली में नोडल केंद्र पर हुई बीएड प्रथम वर्ष की परीक्षा में कॉलेज प्रशासन फिर सख्त दिखा। द्वितीय प्रश्नपत्र के दौरान जहां 1407 परीक्षार्थियों में 356 अनुपस्थित थे। वहां सोमवार को अनुपस्थितों की संख्या 365 जा पहुंची। नोडल केंद्र पर 36 बीएड कॉलेजों के परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे हैं। प्राचार्य डा. एके सक्सेना ने बताया कि केंद्र पर किसी भी तरह की सुरक्षा व्यवस्थाएं उपलब्ध नहीं कराई गई हैं।

दूसरी ओर जनता महाविद्यालय परसोंन में एलएलबी परीक्षा का नोडल केंद्र बनाए जाने के बाद सीसीटीवी कैमरों में परीक्षा कराई जा रही है। प्राचार्य डा. विजय सिंह ने बताया कि अब तक कोई भी नकलची नहीं पकड़ा गया। मां परीक्षा और पति कर रहे बच्चों की देखभाल

-------

बीएड परीक्षा में काफी परीक्षार्थी विवाहित महिलाएं भी हैं। जेएलएन कॉलेज में परीक्षा के दौरान ऐसे भी नजारे देखने को मिल रहे हैं। भीषणगर्मी में कई बच्चों और महिलाओं के पतियों को भी घंटों बाहर रहकर परीक्षा देनी पड़ रही है। सैकड़ों परीक्षार्थी दूसरे जिले के निवासी हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप